Home > देश > कोरोना वायरस संकट के बीच "गरीबों की आजीविका" समान रूप से महत्वपूर्ण : चिदंबरम

कोरोना वायरस संकट के बीच "गरीबों की आजीविका" समान रूप से महत्वपूर्ण : चिदंबरम

कोरोना वायरस संकट के बीच गरीबों की आजीविका समान रूप से महत्वपूर्ण : चिदंबरम
X

नई दिल्ली। पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने शनिवार को ट्विटर पर विभिन्न मुख्यमंत्रियों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ये बतान को कहा कि इस कोरोना वायरस संकट के बीच "गरीबों की आजीविका" समान रूप से महत्वपूर्ण है। उन्होंने कैप्टन अमरिंदर, अशोक गहलोत, भूपेश बाघेल, वी नारायणसामी, उद्धव ठाकरे को टैग करते हुए ट्विटर पर ये बात कही।

उन्होंने कहा कि जब देश कोरोना वायरस के खतरे से लड़ रहा है सरकार को गरीबों के हित में काम करना चाहिए। चिदंबरम ने कहा कि कोविड -19 संकट के कारण गरीब प्रभावित हैं और लॉकडाउन के बीच अपनी नौकरियां गंवा चुके हैं। चिदंबरम ने पोस्ट में कहा कि - गरीबों ने पिछले 18 दिनों में अपनी नौकरी या स्वरोजगार खो दिया है। उन्होंने अपनी अल्प बचत खत्म कर दी है। कई लोग भोजन के लिए कतार में खड़े हैं। क्या राज्य खड़े होकर उन्हें भूखा देख सकते हैं?।उन्होंने मुख्यमंत्रियों से कहा कि वे गरीबों के परिवारों को तुरंत नकदी पहुंचाने की मांग पीएम मोदी से करें। बता दें कि पीएम मोदी आज दूसरी बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना वायरस को लेकर मुख्यमंत्रियों को संबोधित करेंगे। यहां लॉकडाउन बढाने पर चर्चा होती है। अब तक पंजाब और ओडिशा ने पहले ही 30 अप्रैल तक लॉकडाउन को बढ़ा दिया है। भारत ने शनिवार को 21-दिवसीय कोरोना वायरस लॉकडाउन के 18 वें दिन में प्रवेश किया जो अगर नहीं बढ़ा तो 14 अप्रैल को समाप्त हो जाएगा।

चीन से फैले कोरोना वायरस से पूरी दुनिया में तबाही मची है। भारत में लगातार कोरोना वायरस के संक्रमण का मामला बढ़ता ही जा रहा है। देश में पिछले 24 घंटे में 1035 मामले सामने आने के बाद कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 7,447 हो गई है। वहीं, पिछले 24 घंटे में कोरोना से 40 लोगों की मौत हुई है, जिससे कोविड-19 महामारी मरने वालों का आंकड़ा 239 पहुंच गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना वायरस के कुल 7,447 मामलों में से 6565 एक्टिव केस हैं। इसके अलावा, 642 लोग पूरी तरह से ठीक हो गए हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह 8 बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना वायरस से सर्वाधिक 110 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई। यहां अब इस महामारी से पीड़ितों की संख्या 1872 हो गई है।

Updated : 11 April 2020 7:31 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top