Top
Home > देश > अच्छी खबर : गोवा ने दी कोरोना को मात, अब एक भी केस नहीं

अच्छी खबर : गोवा ने दी कोरोना को मात, अब एक भी केस नहीं

अच्छी खबर : गोवा ने दी कोरोना को मात, अब एक भी केस नहीं

पणजी। कोरोना वायरस से जहां एक ओर देश की रफ्तार थमी हुई है, वहीं इस सबके बीच एक राहत भरी खबर आई है। रविवार का दिन भारत के तटीय राज्य गोवा के लिए नई उपलब्धि लेकर आया है। यहां कोरोना वायरस के सभी मरीज ठीक हो चुके हैं। राज्य में कोरोना के कुल सात मामले आए थे, जिनमें से छह पहले ही ठीक हो गए थे। आखिरी मरीज की कोरोना रिपोर्ट रविवार को निगेटिव आ गई जिसके बाद उसे भी अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने इस बात की जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट किया, 'संतोष और राहत की बात है कि गोवा का आखिरी ऐक्टिव कोरोना मरीज भी टेस्ट रिपोर्ट में निगेटिव पाया गया है। डॉक्टर और सपोर्ट स्टाफ इसके लिए तारीफ के काबिल हैं। गोवा में अब 3 अप्रैल के बाद से कोई नया कोरोना मरीज नहीं पाया गया है।'

मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में कहा, 'हम भले ही छोटे राज्य हैं मगर हमारे यहां टूरिस्ट फुटफॉल बहुत ज्यादा है। पुलिस, स्थानीय प्रशासन, टूरिस्ट डिपार्टमेंट के साथ-साथ गोवा के लोगों का भरपूर साथ मिला। यहां के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हर सलाह मानी। यहां इतने त्योहार आए मगर किसी भी धर्म के किसी भी नागरिक ने कोई समस्या पैदा नहीं की और धर्मगुरुओं का भरपूर सहयोग मिला।' उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन की जो लक्ष्मणरेखा खींची है हमें उसका 3 मई तक पालन करना चाहिए। गोवा में नियम के मुताबिक कुछ छूट दी जा सकती है। उस पर हम विचार करेंगे।

गोवा में कोरोना वायरस की शुरुआत 18 मार्च को हुई थी, दुबई से लौटे एक नेता में सबसे पहले संक्रमण मिला था। 3 अप्रैल तक यहां कोरोना के सात मरीज मिले थे। उसके बाद से राज्य में कोई भी नया मामला नहीं आया। 15 अप्रैल तक राज्य के छह कोरोना पॉजिटिव मरीज ठीक हो गए थे। आखिरी बचे मरीज की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट रविवार को निगेटिव आ गई।

ऐसे में अब गोवा के देश के पहले ग्रीन जोन राज्य बनने का रास्ता साफ हो गया है। इससे पहले बीजेपी के वरिष्ठ नेता बीएल संतोष ने भी ट्वीट किया था कि अगर सब कुछ सरकार की योजना के अनुसार रहा तो गोवा 20 अप्रैल तक ग्रीन जोन में शामिल होने वाला देश का पहला राज्य बन जाएगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय राज्य के दक्षिण गोवा जिले को पहले ही 'ग्रीन जोन' घोषित कर चुका है। जिन क्षेत्रों में कोविड-19 के मामले नहीं आते हैं उन्हें ग्रीन जोन घोषित किया जा सकता है और बंद में छूट दी जा सकती है।

Updated : 2020-04-19T19:43:33+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top