Top
Home > देश > पूर्व वित्तमंत्री चिदंबरम ने म्युचुअल फंड के लिए आरबीआई की घोषणा का किया स्वागत

पूर्व वित्तमंत्री चिदंबरम ने म्युचुअल फंड के लिए आरबीआई की घोषणा का किया स्वागत

पूर्व वित्तमंत्री चिदंबरम ने म्युचुअल फंड के लिए आरबीआई की घोषणा का किया स्वागत

दिल्ली। म्यूचुअल फंड पर तरलता (लिक्विडिटी) के दबाव को कम करने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा 50 हजार करोड़ रुपये की विशेष सहायता की घोषणा पर पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम ने खुशी जताई है। आरबीआई के फैसले का स्वागत करते हुए उन्होंने कहा कि यह अच्छा है कि वित्तीय स्थिरता को बनाए रखने के लिए संस्थाएं इस प्रकार से त्वरित निर्णय ले रही हैं।

कांग्रेस नेता चिदंबरम ने सोमवार को ट्वीट कर कहा, "मैं म्युचुअल फंड के लिए 50 हजार करोड़ रुपये की विशेष तरलता सुविधा की आरबीआई की घोषणा का स्वागत करता हूं। खुशी है कि आरबीआई ने दो दिन पहले व्यक्त की गई चिंताओं पर ध्यान दिया और त्वरित कार्रवाई की।" उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के चलते कई कंपनियों ने यूनिट वापस लेने के दबाव तथा बॉन्ड बाजार में लिक्विडिटी की कमी का हवाला देकर स्कीमें बंद कर दी थी। जिससे निवेशकों का पैसा फंसने का डर था लेकिन आरबीआई की इस मदद से बाजार में थोड़ी स्थिरता आएगी।

उल्लेखनीय है कि देश के अग्रणी म्यूचुअल फंड हाउस फ्रैंकलिन टेम्पलटन इंडिया ने अपनी छह ऋण योजनाओं को बंद करने का फैसला किया था, जिससे निवेशकों के करीब 28 हजार करोड़ रुपये अटक गए थे। यह पहला मौका था जब कोरोना वायरस की आपदा के कारण किसी निवेश संस्था ने अपनी योजनाओं को बंद किया हो। इसी संकट से निपटने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक ने म्युचुअल फंड के लिए 50 हजार करोड़ रुपये की विशेष तरलता सुविधा की घोषणा की है।

Updated : 27 April 2020 8:04 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top