Top
Home > देश > उद्धव ठाकरे का 28 मई तक विधायक बनना बेहद जरुरी है, नहीं बन पाए तो ...

उद्धव ठाकरे का 28 मई तक विधायक बनना बेहद जरुरी है, नहीं बन पाए तो ...

उद्धव ठाकरे का 28 मई तक विधायक बनना बेहद जरुरी है, नहीं बन पाए तो ...

वेबडेस्क। वैश्विक महामारी कोरोना के प्रसार को देश में रोकने के लिये लॉकडाउन घोषित किया गया है। देश में आवश्यक सामग्री के कारोबार को छोड़ कर सब कुछ बंद है। इस दौरान देश में सभी कार्य ठप्प पड़े है। लॉकडाउन के कारण देश में राजनीतिक एवं चुनावी गतिविधियां भी ठप्प है।

राजनीतिक गतिविधियों के बंद पड़े होने से महाराष्ट्र सरकार के मुखिया उद्धव ठाकरे के सामने एक अजीब सी स्थिति पैदा हो गई है। दरअसल, पिछले साल नवंबर में उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। उन्होंने सीएम पद की शपथ ली थी उस समय वह ना ही विधायक थे और ना ही विधानपरिषद के सदस्य थे। जिस कारण से उन्हें अगले छह महीने में विधानसभा का चुनाव लड़ कर विधायक बनना था। उनकी यह अवधि 28 मई को समाप्त हो रही है।

मुख्यमंत्री बने रहने के लिए 28 मई से पहले चुनाव लड़कर विधायक बनना आवश्यक है। लेकिन लॉकडाउन के चलते यह हो पाना असंभव है। क्योकि देश में सभी चुनावी गतिविधियां शांत पड़ी है। देश में राज्यसभा के चुनाव भी आगे बढ़ गए है। इसलिए राज्य में उप चुनावों के होने को लेकर संदेह है। चुनाव ना होने के कारण यदि वह विधानसभा के सदस्य नहीं बन पाते है तो उन्हें मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ सकता है। इसके साथ ही उनके पास एक और विकल्प है की वह सभी मंत्रियों के साथ इस्तीफा देकर दोबारा मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते है। अब देखना यह है की महाराष्ट्र की राजनीति क्या रंग लाती है, उद्धव क्या करते है 28 मई तक स्थिति स्पष्ट हो जाएगी....

Updated : 2020-04-09T12:18:16+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top