Top
Home > देश > 50 हजार करोड़ के निवेश से पीएम की उम्मीदों पर खरा उतरेगा यूपी डिफेंस एक्सपो: योगी

50 हजार करोड़ के निवेश से पीएम की उम्मीदों पर खरा उतरेगा यूपी डिफेंस एक्सपो: योगी

- ढाई लाख लोगों को मिलेगा रोजगार, कानपुर के उद्यमियों को मिलेगी पहचान

50 हजार करोड़ के निवेश से पीएम की उम्मीदों पर खरा उतरेगा यूपी डिफेंस एक्सपो: योगी

कानपुर। कभी उत्तर भारत के मैनचेस्टर का खिताब रखने वाले कानपुर को पुराना गौरव वापस दिलाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बराबर प्रयासरत हैं। उन्हीं के प्रयासों से यूपी एक्सपो का आगाज किया गया जिसमें कानपुर सहित देश के उद्यमियों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया और करीब 50 हजार करोड़ रुपये का निवेश डिफेंस कारीडोर में होने जा रहा है। ऐसे में पूरी संभावना है कि यूपी डिफेंस एक्सपो कानपुर के गौरव को वापस लाने में सफल रहेगा और प्रधानमंत्री की उम्मीदों पर खरा उतरेगा।

यह बातें शुक्रवार को यूपी एक्सपो के समापन कार्यक्रम में चन्द्रशेखर आजाद कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (सीएसए) पहुंचे प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन के दौरान कहीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी डिफेंस एक्सपो के जरिए कानपुर में निवेश की संभावनाएं बढ़ेंगी। हालांकि हम पहले इसको लेकर काफी सशंकित थे, लेकिन जिस तरह से उत्साह के साथ तीन दिनों में कानपुर सहित देश के उद्यमियों ने डिफेंस एक्सपो में भाग लिया, उससे साफ हो गया कि अब यूपी में विकास की बयार बहेगी। उन्होंने कहा कि इसमें करीब 50 हजार करोड़ रुपये का निवेश होने जा रहा है जिससे डिफेंस कॉरीडोर के निर्माण के बाद ढाई लाखों युवाओं को रोजगार मिल सकेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश को हमने देश का सर्वश्रेष्ठ निवेश स्थल बनाया जिसको दुनिया देख रही है। कुछ माह पूर्व लखनऊ में हमारी सरकार ने प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में इन्वेस्टर समिट का आयोजन किया था जिससे 62 हजार करोड़ रुपये का निवेश यूपी में होने जा रहा है।

उसी दौरान प्रधानमंत्री ने यूपी में डिफेंस कॉरिडोर के लिए इन्वेस्टर समिट की घोषणा की थी जिसके बाद डिफेंस कॉरिडोर को लेकर मैंने रक्षा मंत्री से मिल कर डिफेंस कॉरिडोर के लिए यूपी में लाने का प्रस्ताव दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिसंबर तक प्रदेश में एक लाख करोड़ का निवेश कराने की योजना है। उन्होंने कहा कि काम में किसी प्रकार की कोई रुकावट नहीं होगी। सिंगल वेस्ट विंडो सिस्टम लागू होगा। देश के अंदर ही रक्षा आपूर्ति के लिए यह डिफेंस कॉरिडोर मील का पत्थर साबित होगा। कानपुर-बुंदेलखंड में यह एक्सपो बड़ा काम करेगा। इस दौरान कैबिनेट मंत्री सतीश महाना, विधायक नीलिमा कटियार, महेश त्रिवेदी, विधान परिषद सदस्य अरूण पाठक सहित जिला प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे।

अब नहीं अटकेगी किसी की फाइल

मुख्यमंत्री ने यूपी डिफेंस की कामयाबी बताते हुए पिछली सत्ताधारी पार्टियों को घेरने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने प्रदेश में ऐसा वातावारण बना दिया है कि अपराधी अपराध करने से पहले सौ बार सरकार की सख्ती को लेकर सोचता है जिसके चलते चलते अब प्रदेश में निवेशक बेहिचक निवेश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार के खात्मे को लेकर पूरी तैयारी कर ली गई है जिससे अब किसी की भी फाइल सरकारी कार्यालयों में नहीं अटकेगी।

दो जगहों का मुख्यमंत्री ने किया औचक निरीक्षण

मुख्यमंत्री ने सीएसए पहुंचने के बाद अचानक नौबस्ता गल्ला मंडी जाने का फरमान सुना दिया। इसके बाद मुख्यमंत्री का काफिला सीधे नौबस्ता की तरफ निकल पड़ा। वहां पर मुख्यमंत्री ने धान क्रय केन्द्र का बारीकी से निरीक्षण किया और किसानों से सीधी बातचीत की जिस पर मुख्यमंत्री संतुष्ट नजर आये। मीडिया से मुखातिब होते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों की धान की फसल आ गयी है और हमारे सभी धान क्रय केन्द्र पूरी तरह से तैयार हैं। उन्होंने कहा कि यह मेरा पहला निरीक्षण था और यहां पर सब कुछ सही पाया गया। हमें उम्मीद है कि 15 दिनों के अंदर प्रदेश में धान की खरीद अच्छी खासी हो जाएगी। इसके बाद मुख्यमंत्री नमामि गंगा योजना के तहत चल रहे कार्यों के बारे में जानकारी ली और सीधे गंगा बैराज जाने का फरमान सुना दिया। यहां पर निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से सीसामऊ समेत अन्य नालाओं के बारे में अधिकारियों से पूछताछ की। मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 दिसम्बर के बाद गंगा नदी में एक भी नाला नहीं गिरना चाहिए। अगर ऐसा पाया गया तो जिम्मेदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Updated : 2018-11-17T02:03:19+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top