Home > देश > सर्दी से पहले कई आतंकियों को घुसपैठ कराने की कोशिश : आर्मी चीफ

सर्दी से पहले कई आतंकियों को घुसपैठ कराने की कोशिश : आर्मी चीफ

सर्दी से पहले कई आतंकियों को घुसपैठ कराने की कोशिश : आर्मी चीफ
X

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा पार भारतीय सेना की तरफ से कई घुसपैठ की कोशिशों को नाकाम किए जाने के बीच सेना प्रमुख जनरल एम. एम. नरवणे ने गुरुवार को कहा कि पाकिस्तान अपने खतरनाक मंसूबों से बाज नहीं आ रहा है। वह सर्दी से पहले कई आतंकियों को घुसपैठ कराने की कोशिश में है लेकिन भारत की आतंकवाद विरोध ग्रिड ऐसे प्रयासों को नाकाम कर दिया।

सेना प्रमुख ने समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा- पाकिस्तान ठंड से पहले आतंकियों को को सीमापार से भेजने के अपने खतरनाक मंसूबों से बाज नहीं आ रहा।

उन्होंने कहा- "हालांकि, हमारे आतंकवाद विरोधी और घुसपैठ विरोध ग्रिड शानदार और बहुत प्रभावी हैं। सुरक्षाबलों ने कई आतंकियों को मार गिराया है और नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ के प्रयासों को नाकाम किया है।"

सेना प्रमुख हाल में नियंत्रण रेखा और केन्द्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में आतंकवाद विरोधी ऑपरेशंस के दौरान मिली सफलताओं पर टिप्पणी कर रहे थे। पिछले तीन हफ्तों में 24 सितंबर से 15 अक्टूबर के बीच सुरक्षाबलों की तरफ से कुल 17 आतंकियों को मार गिराया गया है। इनमें तीन विदेश पाकिस्तानी भी शामिल थे।

14 अक्टूबर की सुबह एक संदिग्ध बैट (बॉर्डर एक्शन टीम) के हमले को अलर्ट जवानों की तरफ से तंगधार सेक्टर में नाकाम कर दिया गया। हालांकि, एक तरफ जहां फाइनेंशियल टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की इस महीने के बाद बैठक होनी है, जिसमें पाकिस्तान के अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद विरोधी वित्तीय नियमों को लेकर पाकिस्तान की कार्रवाई पर चर्चा होगी। लेकिन, पाकिस्तान लगातार आतंकवाद का समर्थन कर रहा है और नियंत्रण रेखा पर हथियारों की तस्करी में लिप्त है।

Updated : 15 Oct 2020 5:07 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top