Top
Home > राज्य > अन्य > बिहार > बिहार विधानसभा में मंत्री ने अध्यक्ष को दिखाई उंगली, कहा - सदन ऐसे नहीं चलता

बिहार विधानसभा में मंत्री ने अध्यक्ष को दिखाई उंगली, कहा - सदन ऐसे नहीं चलता

बिहार विधानसभा में मंत्री ने अध्यक्ष को दिखाई उंगली, कहा - सदन ऐसे नहीं चलता
X

पटना। बिहार विधानसभा में के इस सत्र में नेताओं की टीप्पणी से सदन की मर्यादा बार-बार टूट रही है। विपक्ष के नेताओं की टिप्पणी से सदन के शर्मसार होने के बाद आज मंत्री की टीप्पणी से सदन में असहज स्थिति पैदा हो गई। सरकार में भाजपा कोटे से मंत्री सम्राट चौधरी द्वारा विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफा आपत्तिजनक टिप्पणी करने से विवाद उत्पन्न हो गया। जिससे सदन की कार्यवाही रूक गई।

दरअसल, मंत्री सम्राट चौधरी ने विधानसभा अध्यक्ष बिनय बिहारी को उंगलीली दिखाकर कहा - " ऐ अध्यक्ष जी सदन ऐसे नहीं चलता।" इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष गुस्से में आ गए और सदन को दिन के 12:00 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया। विधानसभा में भाजपा विधायक बिनय बिहारी के सवाल का जवाब मंत्री सम्राट चौधरी दे रहे थे। इस बीच ऑनलाइन जवाब को लेकर विधानसभा अध्यक्ष ने उन्हें कहा कि आपके विभाग का ऑनलाइन जवाब नहीं आ रहा है। सम्राट चौधरी ने कहा कि 16 में से 14 जवाब ऑनलाइन आया हुआ है। इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि 09:00 बजे हमारा कार्यालय जवाब निकाल लेता है। उस समय 16 में से मात्र 11 जवाब आपका आया है। इसलिए आप अपने विभाग में देख लीजिएगा।

सदन स्थगित हुआ -

इसके बाद मंत्री सम्राट चौधरी ने कहा कि ठीक है, नहीं-नहीं ठीक है। इसके लिए व्याकुल नहीं होना है। इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष गुस्सा गए और कहा कि मंत्री जी आप आसन को व्याकुल नहीं कह सकते हैं। इसे आप वापस लीजिए। इसके बाद सम्राट चौधरी ने आसन को उंगली दिखाते हुए कहा कि "ऐ अध्यक्ष जी ऐसा नहीं होता है"। आप इस तरह से सदन नहीं चला सकते हैं। आप अध्यक्ष जी समझ लीजिए। इस तरह नहीं चलेगा।आप व्याकुल नहीं होइए। इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष गुस्से में खड़ा हो गए और सदन को 12:00 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया।

दोबारा सदन की कार्यवाही में नहीं पहुंचे स्पीकर सिन्हा -

सदन की कार्यवाही 12:00 बजे दिन में दोबारा शुरू हुई तो विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा सदन में नहीं पहुंचे। उनकी जगह अध्याशी सदस्य नरेंद्र नारायण यादव सदन में पहुंचे और उन्होंने 02:00 बजे तक के लिए कार्यवाही फिर से स्थगित कर दी। उनके इस घोषणा के साथ विपक्ष ने सदन में शोर भी मचाया। अध्याशी सदस्य ने आज के लिए शून्यकाल और अन्य लिस्टेड कार्यवाही को 19 मार्च को किए जाने की सूचना दी।

सिन्हा आहत -

विधानसभा में मंत्री के हाथों बेइज्जत होने के बाद विजय सिन्हा बेहद आहत हैं। फिलहाल सरकार के वरिष्ठ मंत्रियों के साथ उनकी मंत्रणा चल रही है ताकि किसी तरह इस पूरे विवाद को खत्म किया जाए। इसको लेकर सत्तापक्ष लगा हुआ है। मंत्री सम्राट चौधरी ने आज जिस तरह विजय सिन्हा को सदन में जवाब दिया उसके बाद पैदा हुई स्थिति का सामना कभी ना तो सदन ने किया था और ना ही सरकार ने।

Updated : 17 March 2021 10:13 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top