Top
Home > राज्य > अन्य > बिहार > पटना में कांग्रेस के मुख्यालय सदाकत आश्रम में आयकर विभाग की रेड, गाड़ी में मिले लाखों रुपये

पटना में कांग्रेस के मुख्यालय सदाकत आश्रम में आयकर विभाग की रेड, गाड़ी में मिले लाखों रुपये

पटना में कांग्रेस के मुख्यालय सदाकत आश्रम में आयकर विभाग की रेड, गाड़ी में मिले लाखों रुपये
X

पटना। पटना में कांग्रेस मुख्‍यालय सदाकत आश्रम पर इनकम टैकस का छापा पड़ा है। बताया जा रहा है कि सदाकत आश्रम में खड़ी एक गाड़ी से साढ़े आठ लाख रुपए मिले हैं। इनकम टैक्‍स की कार्यवाही लगातार जारी है। अभी तक कितनी रकम मिली है। जिस गाड़ी से ये रुपए मिले हैं वो किसकी थी। इन रुपयों की जिम्‍मेदारी किसकी है इस बारे में कोई अधिकारी कुछ नहीं बता रहा है। मीडिया ने एक अधिकारी से इस बारे में बातचीत की कोशिश की लेकिन उन्‍होंने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया।

छापामारी की कार्यवाही अभी जारी है। मिली जानकारी के अनुसार सदाकत आश्रम में इस वक्‍त बिहार चुनाव प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला और प्रदेश प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल भी मौजूद हैं। शक्ति सिंह गोहिल ने छापामारी को ध्‍यान भटकाने की कोशिश करार दिया है। उन्‍होंने कहा कि चुनाव में महागठबंधन को जीतता देख कांग्रेस के खिलाफ साजिश की जा रही है।

सदाकत आश्रम में गाड़ी से रुपए मिलने पर कांग्रेस नेता ने कहा कि किसी गाड़ी से पैसे मिले हैं तो उससे हमारा कोई संबंध तो नहीं है। यह सार्वजनिक जगह है और बहुत से लोग आते हैं। यहां किसी को आने के लिए अनुमति की जरूरत नहीं पड़ती। गोहिल ने कहा कि बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने जा रही है। बिहार की जनता का आशीर्वाद कांग्रेस और महागठबंधन को है। कल राहुल गांधी की रैली बिहार में होने वाली है। वह बहुत सफल होने वाली है। ये उसी की बौखलाहट है। ध्‍यान भटकाने के लिए ऐसा किया जा रहा है। गोहिल ने कहा कि अभी कुछ दिन पहले रक्‍सौल से भाजपा प्रत्‍याशी के भाई के घर से 22किलो 576 ग्राम सोना और ढाई किलो चांदी मिलीी है। एक बार भी इनकम टैक्‍स, ईडी या सीबीआई उनके यहां नहीं गई। मेरे कम्‍पाउंड में यदि कोई गाड़ी है जिसमें उसमें आठ लाख रुपए मिले हैं और इस पर ये लोग मुझे नोटिस दे रहे हैं तो बताएं कि रक्‍सौल प्रत्‍याशी के यहां ये क्‍‍‍‍‍‍यों नहीं गए। उनके भाई के यहां से इतनी बड़ी मात्रा में सोना-चांदी मिला, वहां कोई क्‍यों नहीं गया।

गोहिल ने कहा कि ये पब्लिक है,सब जानती है। बिहार की धरती चाणक्‍य की धरती है। ये लोग बिहार में जितना हमको परेशान करेंगे। हम उतना ही मजबूत होंगे।गोहिल ने कहा कि यह सार्वजनिक स्‍थल है। कोई अपनी गाड़ी में क्‍या लेकर आया है इसके बारे में मुझे कैसे पता चल जाएगा। यह राजनीतिक दल का दफ्तर है। यहां सब लोग आते हैं।

Updated : 22 Oct 2020 2:31 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top