Top
Home > राज्य > अन्य > बिहार > पूर्व मुख्‍यमंत्री ने सीएम कैंडिडेट तेजस्‍वी के साथ डाला वोट, बोलीं - बिहार में बह रही बदलाव की गंगा

पूर्व मुख्‍यमंत्री ने सीएम कैंडिडेट तेजस्‍वी के साथ डाला वोट, बोलीं - बिहार में बह रही बदलाव की गंगा

पूर्व मुख्‍यमंत्री ने सीएम कैंडिडेट तेजस्‍वी के साथ डाला वोट, बोलीं - बिहार में बह रही बदलाव की गंगा
X

पटना। बिहार विधानसभा के लिए दूसरे चरण का मतदान हो रहा है। इस बीच पूर्व मुख्‍यमंत्री राबड़ी देवी अपने बेटे और महागठबंधन की ओर से सीएम कैंडिडेट तेजस्‍वी यादव के साथ वोट डालने पहुंची हैं। मताधिकार के प्रयोग से पहले राबड़ी देवी ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि बिहार में बदलाव की गंगा बह रही है। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश की जनता बदलाव चाहती है और यह इस बार होकर रहेगा।

आज बिहार में दूसरे चरण में 17 जिलों की 94 सीटों के लिए मतदान हो रहा है। इस चरण में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव, सरकार के चार मंत्रियों श्रवण कुमार, रामसेवक सिंह, नंदकिशोर यादव व राणा रणधीर सहित 1463 उम्मीदवार मैदान में है। 2 करोड़ 86,11,164 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। इनमें 1,50,33,034 पुरुष, 1,35,16,271 महिला एवं 980 थर्ड जेंडर के मतदाता शामिल हैं। इनके अतिरिक्त 60,879 सर्विस मतदाता भी अपना वोट डालेंगे। निर्वाचन विभाग के अनुसार इस चरण में 80 वर्ष से अधिक उम्र के और दिव्यांग मतदाता 20,240 बैलेट पेपर के माध्यम से भी वोट करेंगे।

दूसरे चरण में मंगलवार को 1463 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा। इस चरण में 1316 पुरुष, 146 महिला एवं एक थर्ड जेंडर की उम्मीदवार इनमें शामिल हैं। दूसरे चरण में सबसे अधिक 27 उम्मीदवार महाराजगंज निर्वाचन क्षेत्र में और सबसे कम चार उम्मीदवार दरौली (सु) निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव मैदान में हैं। वहीं, 40 विधानसभा क्षेत्रों में एक से अधिक महिला प्रत्याशी चुनाव लड़ रही हैं। इस चरण में 513 निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। चुनाव आयोग के निर्देश पर सभी निर्वाचन क्षेत्रों में चुनाव की तैयारियों को पूरा कर लिया गया है। इस चरण में हरेक मतदान केंद्र पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गयी है। इस चरण में सुरक्षा बलों की करीब 1200 कंपनियों को तैनात किया गया है।

निर्वाचन विभाग के अनुसार दूसरे चरण के चुनाव को लेकर संबंधित जिलों में 41,362 बूथों का गठन किया गया है। इनमें 8694 बूथ संवेदनशील बूथ के रूप में चिन्हित किए गए हैं। इन बूथों से करीब 4 लाख 01 हजार 631 मतदाता को संवेदनशील मतदाता के रूप में चिन्हित किया गया है। इनमें 44,282 मतदाताओं को धमकी या दबाव देने वाले व्यक्तियों पर नजर रखी जा रही है।

निर्वाचन विभाग के अनुसार दूसरे चरण के मतदान पर निगरानी को लेकर 3548 बूथों से लाइव वेबकॉस्टिंग कराने का निर्णय लिया गया है। मतदान को लेकर 41,362 कंट्रोल यूनिट, 41,403 बैलेट यूनिट और 41,362 वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाएगा। इस चरण में दीघा विधानसभा क्षेत्र मतदाताओं की दृष्टि से सबसे बड़ा चुनाव क्षेत्र हैं जबकि चेरिया बरियारपुर मतदाताओं की दृष्टि से सबसे छोटा चुनाव क्षेत्र है।

Updated : 3 Nov 2020 4:29 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top