Latest News
Home > राज्य > अन्य > बिहार > अग्निपथ विरोध : बिहार में डिप्टी सीएम समेत कई नेताओं को मिली 'Y' श्रेणी की सुरक्षा

अग्निपथ विरोध : बिहार में डिप्टी सीएम समेत कई नेताओं को मिली 'Y' श्रेणी की सुरक्षा

प्रदेशभर में शनिवार को पुलिस पर छह जगहों पर हमला

अग्निपथ विरोध : बिहार में डिप्टी सीएम समेत कई नेताओं को मिली Y श्रेणी की सुरक्षा
X

पटना। बिहार में अग्निपथ योजना के विरोध में चौथे दिन शनिवार को प्रदर्शनकारियों ने पटना समेत प्रदेश के छह जगहों पर पुलिस पर हमला किया। कुछ जगह पर पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच फायरिंग भी हुई। इन सबके बीच बिहार भाजपा के 12 नेताओं और विधायकों को वाई श्रेणी की सुरक्षा दी गई है।

इसमें दोनों डिप्टी सीएम सहित भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल, दरभंगा से विधायक संजय सरावगी और दीघा से विधायक संजीव चौरसिया शामिल हैं। इनके अलावा विधानपरिषद सदस्य अशोक अग्रवाल, दिलीप जायसवाल और लोकसभा सांसद गोपाल जी ठाकुर को भी वाई श्रेणी की सुरक्षा दी गई है।

मसौढ़ी में पत्थरबाजी और फायरिंग

आज पटना के मसौढ़ी में तारगेना स्टेशन के पास पत्थरबाजी और फायरिंग हुई है। प्रदर्शनकारी स्टेशन में तोड़फोड़ करने लगे। पार्किंग में खड़ी गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया। काबू पाने के लिए पुलिस ने कई राउंड फायर किए।देर शाम तारेगना स्टेशन पर हुए उपद्रव के बाद मसौढ़ी के अंचलाधिकारी (सीओ) के बयान पर मसौढ़ी थाने में एक एफआईआर दर्ज हुई है। इसमें तीन कोचिंग पैराडाइज, आदर्श, बीडीएस के संचालकों सहित 70 नामजद और 500 अज्ञात शामिल हैं। अब तक 70 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मसौढ़ी एसपी के अनुसार, उपद्रवियों को गिरफ्तार करने के लिए रात में कई जगहों पर छापेमारी चलेगी।

435 प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी -

बक्सर के नवानगर में एनएच-120 पर जाम लगाकर आंदोलन कर रहे प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प हुई। उपद्रवियों ने पुलिस पर हमला किया। पुलिस निरीक्षक की गाड़ी में आग लगा दी। बचाव में पुलिस ने दो-चार राउंड फायरिंग की। मुंगेर में प्रदर्शनकारियों ने हंगामा किया। तारापुर बीडीओ की गाड़ी में तोड़फोड़ की। अब तक राज्य में कुल 31 एफआईआर दर्ज हुए और 435 प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी हुई। औरंगाबाद के गोह प्रखंड में उपद्रवियों ने थाना पर हमला कर दिया, जिसमें तीन से चार पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। बसों में भी तोड़फोड़ की गई। साथ ही ब्लॉक ऑफिस पर भी पथराव किया गया। घटना के बाद पुलिस ने दर्जनभर से ज्यादा प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है।

रेलवे का निर्णय -

प्रदर्शन को देखते हुए रेलवे ने बड़ा फैसला लिया है। ट्रेनों और यात्रियों की सुरक्षा को देखते बिहार में पूर्व मध्य रेल क्षेत्राधिकार से गुजरने वाली ट्रेनें शनिवार से लेकर 20 जून यानी सोमवार तक रात आठ बजे से सुबह चार बजे तक ही चलेंगी। पूर्व मध्य रेलवे के सीपीआरओ वीरेंद्र कुमार ने बताया कि ट्रेनों को गुजारने के लिए सेफ कॉरिडोर बनाया गया है। दूसरे जोन की ट्रेनें रि-शेड्यूल करके आएंगी तो उन्हें बिहार से गुजारा जाएगा।

Updated : 2022-06-18T19:46:25+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top