Top
Home > राज्य > अन्य > बिहार > अमीरी व गरीबी की खाई लोकतंत्र को खोखला बनाती रहेगी : कन्हैया

अमीरी व गरीबी की खाई लोकतंत्र को खोखला बनाती रहेगी : कन्हैया

अमीरी व गरीबी की खाई लोकतंत्र को खोखला बनाती रहेगी : कन्हैया
X

बेगूसराय। लोगों को ऐसे उम्मीदवारों का समर्थन करना चाहिए, जो देश के विकास को चंद धन्नासेठों की तिजोरी के पैसों से नहीं, बल्कि हर नागरिक को मिलने वाली स्वास्थ्य, शिक्षा आदि से जुड़ी सुविधाओं से परिभाषित करते हैं। यह बात कन्हैया कुमार ने शनिवार को बेगूसराय के चेरिया वरियारपुर विधानसभा क्षेत्र में जनसंपर्क के दौरान लोगों से संवाद करते हुए कही।

शनिवार को जनसम्पर्क अभियान शुरू करने से पहले कन्हैया धरमपुर पहुंचे तथा सड़क हादसे के शिकार हुए संजय चौरसिया एवं मंतोष चौरसिया के परिजनों से मिलकर हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया। धुंआधार प्रचार के दौरान कन्हैया ने कहा यह शर्मनाक है कि हमारे देश में झूठ और बेईमानी के दम पर मुट्ठीभर लोगों के पास करोड़ों मेहनतकशों की कुल संपत्ति से ज्यादा पैसा जमा हो गया है। जब तक ऐसी स्थिति रहेगी तब तक देश में अमीरी और गरीबी की खाई लोकतंत्र को खोखला बनाती रहेगी। नरेंद्र मोदी ने चुनाव से पहले 'न खाऊंगा, न खाने दूंगा' का नारा देने के बाद प्रधानमंत्री बनने पर 'न पकड़ूंगा, न पकड़ने दूंगा' की नीति अपनाई। यही वजह है कि 2014 के बाद देश में सिर्फ भ्रष्टाचारियों के लिए अच्छे दिन आए हैं।

भाजपा की नफरत की राजनीति से बचने की अपील करते हुए कन्हैया ने कहा कि आजादी के आंदोलन के दौरान शहीदों ने धर्मनिरपेक्षता, समानता जैसे जिन मूल्यों को बचाए रखने के लिए अपनी जान दे दी थी, आज वह मूल्य, संविधान और लोकतंत्र को खतरे में डालने वालों की साजिशों के कारण संकट में हैं।

उन्होंने कहा कि बेगूसराय की धरती हमेशा से सामाजिक सौहार्द की धरती रही है। एक बार फिर संविधान बचाने की लड़ाई में इस जिले को बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है। जिस उम्मीदवार ने बेगूसराय आने से ही मना कर दिया था, उसकी लोकतंत्र और संविधान विरोधी हरकतों के बारे में यहां की जनता को पूरी जानकारी है। बेगूसराय की धरती आत्मसम्मान और संविधान की रक्षा के लिए बड़ी से बड़ी ताकत से टकराने के लिए जानी जाती है। जब बात यहां की मिट्टी के बेटे को बदनाम और परेशान करने से जुड़ी हो तब यहां के लोग सच के साथ खड़े रहने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। जिन्हें बेगूसराय के विकास से कोई मतलब नहीं है उन्हें यहां की जनता के समर्थन की उम्मीद भी नहीं होनी चाहिए।

Updated : 13 April 2019 1:59 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top