Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भिंड > सोशल मीडिया के शिकार हुए सांसद भागीरथ प्रसाद, पुलिस ने किया मामला दर्ज

सोशल मीडिया के शिकार हुए सांसद भागीरथ प्रसाद, पुलिस ने किया मामला दर्ज

भिंड - दतिया सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद के संसद में दिए भाषण को कांट छांट कर फेसबुक पर किया वायरल

सोशल मीडिया के शिकार हुए सांसद भागीरथ प्रसाद, पुलिस ने किया मामला दर्जImage Credit : merca20

ग्वालियर/स्वदेश वेब डेस्क। सोशल मीडिया ने सामाजिक ताने बाने को ध्वस्त करने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी है। सोशल मीडिया पर वीडियो में कांट छांट कर अपने हिसाब से बनाकर और फिर उसे वायरल कर सामाजिक समरसता को बिगाड़ने वाले पूरी तरह निरंकुश बने हुए हैं। इसी सोशल मीडिया का शिकार भिंड दतिया सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद हो चुके हैं मामला सामने आने के बाद सांसद के सोशल मीडिया प्रतिनिधि की शिकायत पर पुलिस में मामला दर्ज कर लिया और सायबर सेल को सौंप दिया है।

आज के दौर की वास्तविकता ये है कि नकारात्मक विचारों को पोषित और पल्ल्वित कर कुछ कथित नेता और सामाजिक कार्यकर्ता किसी की कही गई बात को अपने हिसाब से परिवर्तित कर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल कर देते हैं। इसके पीछे उनकी एक सोची समझी रणनीति होती है और उसका लाभ मिलते ही वो अपना अगला तीर फेंकने की तैयारी में जुट जाते हैं। भारत में इस समय अपनी बात को कुछ ही मिनट में जनता के बीच पहुंचाने का सबसे सशक्त माध्यम सोशल मीडिया है जिसका भरपूर उपयोग ऐसे लोग कर रहे हैं।

भिंड - दतिया संसदीय क्षेत्र के भाजपा सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद के साथ भी कुछ लोगों ने ऐसा किया। उन्होंने 6 अगस्त को पार्टी की अनुमति लेकर संसद में एससी एसटी एक्ट, पॉस्को एक्ट, सहित अन्य विषयों पर भाषण दिया था जिसमें उन्होंने पॉस्को एक्ट में फांसी की सजा की बात का उल्लेख करते हुए कहा था कि अब कानून बना है जिसमें 12 साल से कम की नाबालिग के साथ दुष्कर्म करने वाले को फांसी दी जाती है। उन्होंने अपने भाषण में एससी एसटी एक्ट के विषय में भी विचार रखे , लेकिन कुछ शरारती तत्त्वों ने डॉ. भागीरथ प्रसाद के भाषण में कांटछांट कर नया वीडियो बनाया जिसमें बताया गया कि डॉ. भागीरथ प्रसाद एससी एसटी एक्ट में फांसी की बात कर रहे हैं। वीडियो फेसबुक पर अपलोड कर वायरल कर दिया।

वीडियो बनाने और उसे वायरल करने वाले को जैसे उम्मीद थी वैसा ही परिणाम आया और जनता सांसद भागीरथ प्रसाद का विरोध करने लगी। इस पोस्ट का इतना व्यापक असर हुआ कि जनता ने सभी जनप्रतिनिधियों के विरुद्ध मोर्चा खोल दिया। जनता हिंसक होने लगी, काले झंडे दिखाए जाने लगे। मामला सामने आते ही सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद के सोशल मीडिया प्रतिनिधि नरोत्तम प्रसाद योगी ने भिंड कोतवाली में संसद में दिए गए असली भाषण और कांटछांट कर बनाई सीडी देकर मामला दर्ज कराया। पुलिस ने सायबर एक्ट की धाराओं के तहत अज्ञात व्यक्ति के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया।

अब सवाल ये उठता है कि वो कौन लोग हैं जो समाज की नसों पर चोट करने में आनंद अनुभव करते हैं , वो कौन लोग हैं या एक वर्ग विशेष है जिसे सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने की आदत पड़ चुकी है। समय अब आ गया है कि ऐसे लोगों को पहचानकर समाज के सामने उनका असली चेहरा उजागर किया जाए।

Updated : 2018-10-05T15:57:23+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top