Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भिंड > प्रदेश में गोहद सबसे गर्म, पारा 49 डिग्री के नजदीक

प्रदेश में गोहद सबसे गर्म, पारा 49 डिग्री के नजदीक

ग्वालियर में लगातार दूसरे दिन तापमान 46 डिग्री के पार

प्रदेश में गोहद सबसे गर्म, पारा 49 डिग्री के नजदीक
X

ग्वालियर। ग्वालियर-चम्बल सहित मध्यप्रदेश में भीषण गर्मी पिछले सालों का रिकॉर्ड तोड़ रही है। ग्वालियर में लगातार दूसरे दिन अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज किया गया जो सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक है जबकि 48.7 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान के साथ भिण्ड जिले का गोहद और 47.8 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान के साथ नौगांव प्रदेश में सबसे गर्म रहा। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि रविवार को भी मौसम इसी प्रकार गर्म रहेगा। इसके बाद 16 मई को पश्चिमी विक्षोभ आएगा। जिसके प्रभाव से 17 व 18 मई को भीषण गर्मी से कुछ राहत मिलेगी लेकिन 19 मई से एक बार फिर मौसम गर्म हो सकता है।

मध्यप्रदेश में इस समय कोई मौसम प्रणाली सक्रिय नहीं है। इस वजह से मौसम साफ है और सूरज रौद्र रूप दिखा रहा है। उधर पश्चिमी राजस्थान में भीषण लू की स्थिति बनी हुई है जहां से उत्तर-पश्चिमी गर्म हवाएं मध्यप्रदेश में आ रही हैं। इसी कारण ग्वालियर-चम्बल सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में भीषण गर्मी के साथ लू की स्थिति निर्मित हो गई है। बात ग्वालियर की करें तो पिछले दिन की तरह शनिवार को भी सूरज ने रौद्र रूप दिखाया। साथ ही छह से आठ किलोमीटर प्रति घंटे की गति से उत्तर-पश्चिमी गर्म हवाएं भी चलती रहीं। जिससे भीषण लू की स्थिति बनी रही। स्थानीय मौसम विज्ञानी सी.के. उपाध्याय ने बताया कि रविवार को भी मौसम इसी प्रकार अत्यधिक गर्म रहने की संभावना है। इसके बाद कुछ राहत मिलेगी। उन्होंने बताया कि वर्तमान में उत्तरी अफगानिस्तान में एक पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है जो 16 मई को जम्मू-कश्मीर पहुंचेगा। इसके प्रभाव से हवाओं का रुख बदलने से 17 व 18 मई को तापमान में गिरावट होगी। इस दौरान आंशिक बादल भी छा सकते हैं और प्रदेश में कहीं-कहीं तेज हवाओं के साथ बूंदाबांदी भी हो सकती है। आगामी 19 मई को पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव समाप्त होते ही गर्मी फिर से बढ़ेगी।

इनका कहना है -

अभी मौसम शुष्क है और उत्तर-पश्चिमी गर्म हवाएं आ रही हैं इसलिए भीषण गर्मी और लू की स्थिति बनी हुई है। सोमवार 16 मई को उत्तर भारत में एक पश्चिमी विक्षोभ आएगा। जिसके प्रभाव से हवाओं का रुख बदलकर दक्षिण-पूर्वी हो जाएगा। जिससे दो दिन भीषण गर्मी से राहत मिलेगी लेकिन 19 मई से फिर गर्मी बढ़ेगी।

वेदप्रकाश

मुख्य मौसम विज्ञानी

मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल

Updated : 15 May 2022 7:47 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top