Top
Home > राज्य > अन्य > राजस्थान > सचिन पायलट ने किसान महापंचायत के मंच पर 16 विधायक बिठा दिखाई ताकत, नहीं पहुंचे गहलोत

सचिन पायलट ने किसान महापंचायत के मंच पर 16 विधायक बिठा दिखाई ताकत, नहीं पहुंचे गहलोत

सचिन पायलट ने किसान महापंचायत के मंच पर 16 विधायक बिठा दिखाई ताकत, नहीं पहुंचे गहलोत
X

जयपुर। राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री और विधायक सचिन पायलट ने आज जयपुर में किसान महापंचायत में भारी भीड़ जुटाकर शक्ति प्रदर्शन किया। उन्होंने बड़ी संख्या में भीड़ जुटाकर हाईकमान को जमीन पर अपनी पकड़ और ताकत का अहसास कराया। इसी के साथ अपने समर्थक 16 विधायकों को मंच पर बिठाकर पार्टी को संदेश दे दिया की अभी उनका टकराव खत्म नहीं हुआ है।

पायलट ने कहा की केन्द्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ देश का किसान खून के आंसू रो रहा है, लेकिन दिल्ली की सरकार में किसान की कोई सुनने वाला नहीं है। हमें केंद्र के खिलाफ लडऩा होगा। किसान को सहानुभूति नहीं, सहयोग चाहिए। हम केंद्र की तानाशाही के खिलाफ मजबूती से लड़ेंगे, किसान और नौजवान आज एक साथ खड़े हैं। हमारे नेता राहुल गांधी राजस्थान आए थे, प्रियंका गांधी यूपी में हर जगह घूम रही हैं। उन्होंने केंद्र सरकार को किसानों की आय दोगुनी करने का वादा याद दिलाते हुए कहा कि लंबे समय से देश की राजधानी दिल्ली में किसान सडक़ों पर बैठे हैं। अब तक 200 किसान शहीद हो गए है। अब समय आ गया है हम सबको एक होकर इन कानूनों के विरोध में खड़ा होना पड़ेगा। किसानों का दमन हो रहा है, लेकिन हम भी मानने वाले नहीं है। इस महापंचायत में हम 3 प्रस्ताव रख रहे है। केंद्र तीनों कानून वापस लें, न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद के लिए कानून बनाए और पेट्रोल-डीजल व गैस के दाम कम करें। हम अंतिम दम तक संघर्ष करेंगे।

मुख्यमंत्री गहलोत पर तंज कसा -

पायलट समर्थक विधायक विश्वेंद्र सिंह ने अपने संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री गहलोत पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि पहले हमारी 99 सीट आईं, फिर 101 हो गईं। मेहनत कोई करे....। विश्वेंद्र के इतना कहते ही पूरी महापंचायत में तालियां और पायलट के समर्थन में नारेबाजी होने लगी। फिर विश्वेंद्र सिंह ने कहा कि आप मुझसे ज्यादा समझदार हैं। राहुल गांधी आगाज करके गए हैं। पायलट की यह रैली नहीं रैला है।

मुख्यमंत्री गहलोत नहीं पहुंचे -

महापंचायत के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और गहलोत खेमे के कई नेताओं को न्योता भेजा गया था, लेकिन इनमें से कोई नहीं पहुंचा। महापंचायत में पायलट समर्थक विधायक विश्वेंद्र सिंह, हेमाराम चौधरी, मुरारीलाल मीणा, बृजेंद्र सिंह ओला, रमेश मीणा, वेद प्रकाश सोलंकी, हरीश मीणा, जीआर खटाणा, इंद्राज गुर्जर, राकेश पारीक, अमर सिंह जाटव, सुरेश मोदी, मुकेश भाकर, पीआर मीणा मौजूद रहे। इन 14 विधायकों के अलावा निवाई विधायक प्रशांत बैरवा और पूर्व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष नारायण सिंह के पुत्र दांतारामगढ़ से विधायक वीरेंद्र सिंह भी महापंचायत में पहुंचे।

Updated : 19 Feb 2021 2:23 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top