Home > राज्य > अन्य > राजस्थान > राजस्थान में शिक्षक पात्रता परीक्षा शुरू हुई, 25 लाख 35 हजार 542 अभ्यर्थी शामिल

राजस्थान में शिक्षक पात्रता परीक्षा शुरू हुई, 25 लाख 35 हजार 542 अभ्यर्थी शामिल

राजस्थान में शिक्षक पात्रता परीक्षा शुरू हुई, 25 लाख 35 हजार 542 अभ्यर्थी शामिल
X

जयपुर। राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (रीट) रविवार सुबह से शुरू हो गई है। यह राजस्थान के इतिहास में प्रदेश की सबसे बड़ी परीक्षा है। परीक्षा केन्द्रों पर कड़ी निगरानी के बीच अभ्यर्थी परीक्षा दे रहे हैं। परीक्षा केन्द्रों पर गाइडलाइन के अनुसार मंगवाई गई सामग्री के अलावा किसी भी अन्य सामग्री को नहीं ले जाने दिया गया।

परीक्षा में किसी तरह की धांधली न हो इसके लिए महिलाओं के भी गहने, बालों के रबरबैंड, क्लच व चुनरी आदि भी उतरवा लिए गए। अन्य सभी अभ्यर्थियों के हाथ में बंधे डोरे या ब्रासलेट को खुलवा लिया गया। यानी किसी भी सूरत में कोई भी ऐसी सामग्री अंदर नहीं ले जाने दी गई, जिससे नकल संबंधी जरा भी गुंजाइश पैदा हो। उधर परीक्षा को लेकर पिछले कई दिन से शासन-प्रशासन भी पूरी तरह मुस्तैद है। शिक्षकों के 31 हजार पदों के लिए रीट में देशभर के 25 लाख 35 हजार 542 अभ्यर्थी दो पारी में परीक्षा देंगे। इसमें प्रथम स्तर की परीक्षा में 12 लाख 67 हजार 983 परीक्षार्थी बैठेंगे, जबकि द्वितीय स्तर की परीक्षा में 12 लाख 67 हजार 539 परीक्षार्थियों के बैठ रहे हैं। दोनों परीक्षा में आवेदनों की संख्या 25 लाख है, इनमें 9 लाख अभ्यर्थी ऐसे हैं, जिन्होंने दोनों परीक्षाओं के लिए आवेदन किया है। कुल अभ्यर्थियों की संख्या 16 लाख है।

परीक्षा के लिए प्रदेश में 3 हजार 993 केंद्र बनाए गए हैं। सबसे ज्यादा 592 परीक्षा केंद्र राजधानी जयपुर में है। जयपुर में ढाई लाख से ज्यादा अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। इनमें दूसरे लेवल की परीक्षा शुरू हो गई है। प्रदेशभर में रीट के लिए सुबह 10 से दोपहर 12:30 बजे के बीच छठी से आठवीं कक्षा के लिए द्वितीय स्तर की परीक्षा होगी। दोपहर 2:30 से शाम 6 बजे तक पहली से पांचवी कक्षा के लिए प्रथम स्तर की परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान सरकार ने जहां छात्रों के भोजन से लेकर आने-जाने तक की फ्री व्यवस्था की है।

सीसीटीवी कैमरों से निगरानी -

रीट परीक्षा के दौरान किसी भी तरह की गड़बड़ी न हो इसके लिए प्रदेशभर में 30 हजार से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। प्रदेश के बाड़मेर, सवाई माधोपुर, करौली, दौसा, नागौर, सीकर, भरतपुर, झुंझुनू, और जालौर के शत प्रतिशत परीक्षा केंद्रों पर कैमरे हैं, जबकि शेष बचे जिलों में अति संवेदनशील परीक्षा केंद्र पर कैमरों से निगरानी की जाएगी। इसके साथ ही चप्पे-चप्पे पर तैनात पुलिस के जवान अभ्यर्थियों के साथ आम आदमी की की सुरक्षा में तैनात किए गए हैं।

सुबह से शाम तक इंटरनेट बंद -

राजस्थान में रीट के दौरान नकल रोकने के लिए मोबाइल इंटरनेट बंद किया गया है। राजधानी जयपुर में सुबह 7 से शाम 5 बजे तक, उदयपुर, भीलवाड़ा, अलवर, बीकानेर, दौसा, चित्तौड़गढ़, बाड़मेर, टोंक, अजमेर, नागौर में रविवार सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक, सवाई माधोपुर में 5:30 बजे से शाम 6 बजे तक, कोटा, बूंदी व झालावाड़ में सुबह 5 से शाम 5 बजे तक और सीकर में सुबह 8 से शाम 5 बजे तक इंटरनेट बंद किया गया है। इस दौरान लीज लाइन को नेटबंदी से मुक्त रखा गया है।

Updated : 2021-10-12T16:01:08+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top