Top
Home > राज्य > अन्य > राजस्थान > विधायकों को डराने-धमकाने के लिए SOG और ACB का दुरुपयोग किया - भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पूनियां

विधायकों को डराने-धमकाने के लिए SOG और ACB का दुरुपयोग किया - भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पूनियां

विधायकों को डराने-धमकाने के लिए SOG और ACB का दुरुपयोग किया - भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पूनियां
X

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने कहा कि सदन में कांग्रेस सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जायेगा और कोरोना कुप्रबन्धन, प्रदेश की बिगड़ी हुई कानून व्यवस्था, कर्जमाफी के नाम पर किसानों के साथ धोखा सहित प्रदेश के विभिन्न मुद्दों को विधानसभा में पुरजोर तरीके से उठाया जायेगा। उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने विधायकों को डराने धमकाने के लिए के लिए एसओजी और एसीबी का दुरुपयोग किया।

डॉ. पूनियां गुरुवार को भाजपा मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया और उप-नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ भी मौजूद थे।

अनुच्छेद 370 एवं 35ए हटाने सहित अन्य फैसलों की जानकारी दी

डॉ. पूनियां ने कहा कि भाजपा विधायक दल की बैठक में केन्द्र की मोदी सरकार की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं पर विस्तार से चर्चा की गई और मोदी सरकार के तमाम ऐतिहासिक फैसलों जिनमें अयोध्या में श्रीराम मंदिर भूमिपूजन, जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 एवं 35ए हटाने सहित विभिन्न निर्णायक फैसलों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दिखावे के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहकारी संघवाद की बात करते हैं, लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी एवं गृहमंत्री अमित शाह जी पर बार-बार झूठे आरोप लगाकर अपनी सरकार की असफलताओं से जनता का ध्यान हटाने का असफल प्रयास करते हैं, प्रदेश की जनता कांग्रेस पार्टी के अन्दर चल रहे झगडे़ एवं उनकी वादाखिलाफी से भली-भांति परिचित है।

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि विपक्ष के नाते पूरी मजबूती के साथ विधानसभा में जनहित के मुद्दों को उठायेंगे और सरकार को जवाब देने के लिए मजबूर करेंगे। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों के नाम पर प्रदेश की जनता से वादाखिलाफी कर रही कांग्रेस सरकार के खिलाफ सदन में अविश्वास प्रस्ताव लेकर आयेंगे। उन्होंने कहा कि होटल के बाड़े में बंद होकर मौज-मस्ती करने में व्यस्त सरकार को प्रदेश की जनता की कोई चिंता नहीं है और 55 हजार से अधिक कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं, लेकिन सरकार को आमजन से कोई सरोकार नहीं है।

सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग

कटारिया ने कहा कि एसओजी का दुरूपयोग कर सरकार ने विधायकों पर मुकदमे लगाये, फिर हटाये, इस तरह सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग राजस्थान के इतिहास में पहली बार देखने को मिला। उन्होंने कहा कि बिजली के बिलों में बढ़ोतरी, युवाओं को बेरोजगारी भत्ता, प्रदेश में बढ़ते अपराध सहित विभिन्न बिन्दुओं को विधानसभा में जोरदार तरीके से उठायेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत कहते हैं कि कांग्रेस के विधायक एकजुट हैं, लेकिन हकीकत यह है कि कोई पूरब जा रहा है, तो कोई पश्चिम जा रहा है, इनकी पार्टी में भगदड़ मची हुई है।

उप-नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने कहा कि महीनेभर से सरकार अदृश्य है, प्रदेश की जनता मंत्रियों, विधायकों को ढूंढ़ रही है और सरकार पांच सितारा होटल के बाड़े में अपने विधायकों को कैद कर कोरोना काल में प्रदेश की जनता को चिढ़ा रही है और उनके जख्मों पर नमक छिड़क रही हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में आंतरिक विग्रह एवं झगड़ा है और यह तोहमत भाजपा पर लगाते हैं। उन्होंने कहा कि प्रतिपक्ष के नाते हम पूरी तैयारी के साथ विधानसभा में सक्रिय भूमिका निभायेंगे।

Updated : 13 Aug 2020 3:56 PM GMT
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top