Top
Home > Archived > दो घंटे की ओपीडी में चिकित्सक रहे गायब

दो घंटे की ओपीडी में चिकित्सक रहे गायब

दो घंटे की ओपीडी में चिकित्सक रहे गायब
X

बिना जांच कराए ही लौटे वापस मरीज
ग्वालियर|
जयारोग्य चिकित्सालय में चिकित्सकों की मानमानी थमने का नाम नहीं ले रही है। शासन के निर्देश अनुसार लगातार दो दिन का अवकाश होने पर किसी एक दिन दो घंटे की ओपीडी खोली जाती है। इसी के चलते अस्पताल अधीक्षक डॉ. जे.एस. सिकरवार के निर्देश पर शनिवार की सुबह 9 से 11 बजे तक दो घंटे की ओपीडी खोली गई।

जिसमें कुछ चिकित्सक गायब रहे और उनके कक्ष में जूनियर चिकित्सक ही मरीजों को देख रहे थे। ओपीडी में डॉ. अनुभव गर्ग, डॉ. सचिन जैन, डॉ. अजय पाल सिंह, डॉ. योगेंद्र पहारिया, डॉ. योगेंद्र वर्मा, डॉ. सौरभ बैठे थे। जबकि ह्दय रोग विशेषज्ञ और एनेस्थीसिया में कोई वरिष्ठ चिकित्सक नहीं बैठे थे, इन चिकित्सकों के कक्ष में जूनियर चिकित्सक ही मरीजों को देख रहे थे। इतना ही नहीं जिन मरीजों को चिकित्सकों ने देख कर जांच कराने की सहाल दी, उन्हें भी आधा अधूरा उपचार लेकर ही लौटना पड़ा। क्योंकि शनिवार को न तो अल्ट्रासाउण्ड किए गए और न ही सेन्ट्रल पैथोलॉजी लैब में जांच हुई। सिद्धपुरा निवासी बाबूलाल ने बताया कि वह अल्ट्रासाउण्ड कराने के गत दिवस रेडियोलॉजी विभाग में पहुंचे तो उन्हें शनिवार को आने के लिए कहा गया और अब सोमवार को आने की बात कही जा रही है। उन्होंने बताया कि वह पिछले तीन दिनों से गांव से अस्पताल सिर्फ अल्ट्रासाउण्ड कराने के लिए चक्कर काट रहे हंै, जितने पैसे उन्होंने किराए में खर्च कर दिए हैं उतने में तो वह बाहर से ही अल्ट्रासाउण्ड करा लेते। इसी तरह गोविंदपुरी निवासी श्याम मेडिसिन विशेषज्ञ को दिखा कर जब जांचें कराने के लिए पैथोलॉजी पहुंचे तो उन्हें यह कहते हुए लौटा दिया गया कि आज छुट्टी है बाद में आना। इतना ही नहीं माधव डिस्पेंसरी में संचालित डॉट्स केन्द्र पर भी चिकित्सक मौजूद नहीं थे। यहां पहुंचने वाले मरीजों को कर्मचारी ही दवा बांट रहे थे। जबकि दो घंटे की ओपीडी में अल्ट्रासाउण्ड व पैथोलॉजी को भी खोलने के निर्देश दिए गए थे।
इनका कहना है

दो घंटे की ओपीडी में अल्ट्रासाउण्ड और खून की जांचे क्यों नहीं की गई, इस संबंध में संबंधित विभाग अध्यक्ष से जानकारी ली जाएगी।

डॉ. जेएस सिकरवार
अधीक्षक, जयारोग्य चिकित्सालय

Updated : 2018-04-15T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top