Home > Archived > दलालों का अड्डा बना जयारोग्य चिकित्सालय

दलालों का अड्डा बना जयारोग्य चिकित्सालय

दलालों का अड्डा बना जयारोग्य चिकित्सालय
X

निजी अस्पतालों में भेजे जा रहे हैं मरीज

ग्वालियर, न.सं.। जयारोग्य चिकित्सालय में बनी कैजुअल्टी इन दिनों दलालों का अड्डा बन चुकी है। कैजुअल्टी में दूर-दराज से नि:शुल्क उपचार की आस लेकर पहुंचने वाले गरीब मरीजों को निजी अस्पतालों के कुछ दलाल कैजुअल्टी के ही चिकित्सकों के साथ सांठ-गांठ कर निजी अस्पताल में शिफ्ट करा देते हैं। इसके लिए शाम होते ही दलालों का गिरोह अस्पताल परिसर में विभिन्न जगहों पर डेरा जमा लेता है, उसके बाद भी न तो इन्हें सुरक्षाकर्मी बाहर खदेड़ते हैं और न ही चिकित्सक इनकी शिकायत करते हैं। दलालों द्वारा मरीजों के परिजनों को कम पैसों में बेहतर सुविधा के बीच उपचार उपलब्ध कराने की बात कही जाती है, यही नहीं कैजुअल्टी में पदस्थ कुछ चिकित्सक व कर्मचारियों से दलालों की सांठगांठ के चलते अस्पताल में पहुंच रहे मरीजों की पूरी जानकारी उपलब्ध करा दी जाती है। जानकारी मिलते ही दलाल मरीजों के परिजनों के पास पहुंचते हैं और जयारोग्य में व्याप्त अव्यवस्थाओं के बारे में बताना शुरू कर दिया जाता है, जिससे मरीज भयभीत हो जाता है। जिसका फायदा उठा कर दलाल शहर के निजी चिकित्सालयों में ले जाने में सफल हो जाते हैं, जहां मरीजों से उपचार के नाम पर सिर्फ उनसे पैसे लूटे जाते हैं। इतना ही नहीं जयारोग्य चिकित्सालय से निकाल कर नर्सिंग होम तक पहुंचाने के एवज में उन्हें निजी चिकित्सालयों के संचालक द्वारा एक मुश्त रकम दी जाती है। वहीं सूत्रों की मानें तो शहर के कई निजी चिकित्सालय के संचालकों ने अपने इस गोरखधंधे को अंजाम देने के लिए खुद के भी दलाल अस्पताल में छोड़ रखे हैं। ऐसा नहीं है कि इस गोरखधंधे की खबर अस्पताल प्रबंधन को न हो, लेकिन उनके बाद भी अस्पताल प्रबंधन द्वारा कोई ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। इसी के चलते आए दिन अस्पताल में पहुंचने वाले मरीजों को निजी अस्पतालों में शिफ्ट कराने के मामले सामने आते हैं।

कैजुअल्टी के डॉ. वीपी गौतम को किया तलब

निजी अस्पताल में मरीज को शिफ्ट किए जाने के मामले में कैजुअल्टी में पदस्थ चिकित्सक डॉ. वी.पी. गौतम को अधीक्षक कार्यालय में तलब किया है। दरअसल विगत दिवस अहमदाबाद निवासी दिनेश कुमार ने सहायक अधीक्षक से शिकायत करते हुए कहा था कि वह अपने मरीज महादेव प्रसाद को विगत दिवस उपचार के लिए कैजुअल्टी में लेकर पहुंचा था, जहां ड्यूटी पर मौजूद डॉ. वी.पी. गौतम ने उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती करवा दिया था। जिसको लेकर अब अधीक्षक डॉ. जे.एस. सिकरवार ने ड्यूटी पर मौजूद डॉ. वी.पी. गौतम को जबाव प्रस्तुत करने के लिए अधीक्षक कार्यालय में तलब किया है।

Updated : 2018-03-08T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top