Latest News
Home > Archived > भारत-चीन सीमा पर स्थित सभी चौकियां सड़कों से जुड़ेंगी : राजनाथ

भारत-चीन सीमा पर स्थित सभी चौकियां सड़कों से जुड़ेंगी : राजनाथ

भारत-चीन सीमा पर स्थित सभी चौकियां सड़कों से जुड़ेंगी : राजनाथ
X

निलांग घाटी, स्वससे। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को कहा कि केंद्र सरकार ने चीन-भारत सीमा पर स्थित सभी सीमा चौकियों को सड़कों से जोड़ने की विशेष परियोजना हाथ में ली है। राजनाथ ने यहां आईटीबीपी की एक अग्रिम चौकी पर अभियान संबंधी तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने उत्तराखंड में 11614 फुट की ऊंचाई पर स्थित इस सीमा चौकी पर भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के जवानों के साथ नया साल मनाया। यहां आज तापमान शून्य से 20 डिग्री सेल्सियस के स्तर तक गिर गया था। पहली बार किसी गृह मंत्री या सरकार के वरिष्ठ मंत्री ने इस सीमा चौकी का दौरा किया है। गृह मंत्री ने आईटीबीपी के महानिदेशक आर के पचनंदा की मौजूदगी में बल के अधिकारियों को अत्यधिक ऊंचाई वाली सभी चौकियों पर जवानों की तैनाती तीन महीने से कम समय में बारी-बारी से करने के तरीके खोजने को भी कहा। गृह मंत्री ने कहा, मैं यहां उन हालात को देखने आया हूं जिनमें आईटीबीपी के जवान चीन-भारत सीमा की रक्षा कर रहे हैं। जवानों को नये साल की मुबारकवाद देते हुए सिंह ने ऐसी दुर्गम और कठिन चौकियों पर जवानों को बारी बारी से तैनात करने की अवधि को मौजूदा तीन महीने से कम करने के अपने विचार पर भी बात की। उन्होंने अफसरों और जवानों की तारीफ करते हुए कहा कि उनके चुनौतीपूर्ण क्षेत्र और हालात को देखते हुए उन्हें कोई भी सुविधा की कमी नहीं रहेगी।

'बेकार नहीं जाएगी जवानों की शहादत'

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में रविवार को सीआरपीएफ कैंप पर हुए हमले को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आतंकियों की कायरना हरकत बताया है। इस हमले में भारतीय सुरक्षाबलों के पांच जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की निंदा करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि हमें अपने जवानों पर गर्व है। उन्होंने कहा कि हमारे जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी और आतंकियों को उनकी इस कायराना हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। उन्होंने कहा पूरा देश शहीद जवानों के परिवारों के साथ खड़ा है'।

Updated : 2018-01-02T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top