Home > Archived > फायर ब्रांड सीडीओ ने दिखाया आइना - ब्रज के विकास में ब्रज फाउंडेशन की मनमानी पर ...

फायर ब्रांड सीडीओ ने दिखाया आइना - ब्रज के विकास में ब्रज फाउंडेशन की मनमानी पर ...

फायर ब्रांड सीडीओ ने दिखाया आइना - ब्रज के विकास में ब्रज फाउंडेशन की मनमानी पर ...
X

फायर ब्रांड सीडीओ ने दिखाया आइना - ब्रज के विकास में ब्रज फाउंडेशन की मनमानी पर चाबुक

- कलई खुली तो लखनऊ दौड़े कर्ता-धर्ता
- बसपा, सपा और अब भाजपा सरकार में भी खुद की सरकार होने का दंभ, भाजपाई मौन
मथुरा। एक एनजीओ होकर सरकार होने का दंभ। ब्रज के विकास के लिये तैयार योजनाओं की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट में छेड़खानी की हिमाकत। जब कोई महिला अफसर सरकार की मंशा के अनुरूप कार्य न होने पर आपत्ति जताये तो उसके कार्यालय में ही उसके साथ अभद्रता का दुस्साहस। दबाव बनाने को क्रास एफआईआर का दांव चला जाये। इस पूरे प्रकरण में सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात ये है कि जो योगी सरकार का प्रदेश में प्रतिनिधित्व कर रहे हैं उनके मुँह पर भी ताला लटका है।
भारत सरकार ब्रज का विकास उसकी संस्कृति के अनुरूप करना चाहती है। इसके लिये मथुरा को हेरिटेज सिटी प्रोजेक्ट में शामिल किया गया है। जो कार्य होने हैं उसकी डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट भी भारत सरकार में एप्रूब्ल हो गई है। लेकिन सरकार के इस कार्य में सरकार से ही अनुदान लेकर अपनी रोजी रोटी चला रहे एनजीओ (कार्यदायी संस्था) अफसरों को आंख दिखाने से बाज नहीं आ रहे हैं। ताजा मामला मुख्य विकास अधिकारी यशु रुस्तगी के कार्यालय में ब्रज फाउंडेशन के रिसर्च शोध राघव मित्तल द्वारा अभद्रता का है। सीडीओ की खता बस इतनी थी कि उसने फाउंडेशन की कारगुजारियों को उजागर कर दिया। फाउंडेशन की कार्यशैली में खामियों के चलते कार्य में बिलंव हो रहा है इसके चलते सरकार की छवि खराब हो रही है।
उन्होंने डीएम को जो रिपोर्ट सौंपी उसमें वृंदावन परिक्रमा मार्ग में भारत सरकार द्वारा कराये जा रहे कार्याे की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) में छेडख़ानी करने की बात उजागर कर दी। बस इतनी सी बात ही ब्रज फाउंडेशन के कार्यकर्ताओं को नागवार गुजर रही है। ब्रज की सेवा का चोला ओढ़े ये बेखौफ लोग एक महिला आईएएस से अभद्रता करने से भी नही चूके। सीडीओ ने हवालात की हवा खिलाई तो फाउंडेशन के अध्यक्ष विनीत नारायण सियासतदाओं के दरवाजे पर दस्तक देने लगे। बसपा सरकार से लेकर सपा सरकार और अब भाजपा सरकार में अपनी जुगाड़ फिट रखने वाले फाउंडेशन के अध्यक्ष विनीत नारायण आखिरकार मामले में समझौता कराने में सफल हो गये। लेकिन इस पूरे प्रकरण ने भाजपा सरकार में मथुरा से जुड़े दो कद्दावर मंत्रियों के वजूद पर ही सवाल खड़े कर दिये हैं। जो अपनी ही सरकार में अफसरों को सरकार की मंशा के अनुरूप कार्य करने के लिये संरक्षण देने में खुद को असहाय महसूस कर रहे है। बताते हैं कि उक्त संस्था ब्रज के विकास के नाम पर देश-विदेशो से भी जबर्दस्त फंडिग कराकर पैसा बटोर रही है।

Updated : 2017-07-01T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top