Home > Archived > राष्ट्रीय स्मारक प्राधिकरण का दल किला का करेगा निरीक्षण

राष्ट्रीय स्मारक प्राधिकरण का दल किला का करेगा निरीक्षण

राष्ट्रीय स्मारक प्राधिकरण का दल किला का करेगा निरीक्षण
X

पर्यटकों को मिल सकती है सौगात, इसी माह आएगा दल



ग्वालियर,न.सं। राष्ट्रीय स्मारक प्राधिकरण (एनएमए)का दल फरवरी माह में किला का निरीक्षण करेगा। दल के अधिकारी किला समेत ग्वालियर के आसपास के राष्टÑीय स्मारकों पर भी जाएंगे। इसको लेकर स्थानीय भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग ने तैयारियां करना शुरू कर दी हैं। राष्ट्रीय स्मारक प्राधिकरण का दल पिछले पांच वर्ष में किला पर कितने निर्माण कार्य हुए और उसका पर्यटकों पर क्या प्रभाव है इसका भी जायजा लेगा। इसके साथ पर्यटक सुविधाओं को बढ़ाने के लिए कई योजनाओं की घोषणा कर सकता है। फिलहाल स्थानीय अधिकारी विभागीय फाइलों को पूरा करने और किला पर व्यवस्था को चौकस करने में लगे हुए हैं। हालांकि पुरातत्व विभाग के अधिकारी इस मामले में कुछ भी जानकारी नहीं दे रहे हैं।

किला तलहटी का करेगा मुआयना:- सूत्र बताते हैं कि हाल ही में उच्च न्यायालय के आदेश के बाद किला तलहटी की 300 मीटर की परिधि में आने वाले अवैध निर्माणों की तुड़ाई के बाद वहां की यथास्थिति क्या है यह भी दल देखेगा। इसके साथ ही संरक्षित क्षेत्र में जितने भी अवैध निर्माण हैं उन पर भी निर्णय लेगा।

बता दें कि उच्च न्यायालय ने तुड़ाई मामले में स्थगन ले चुके पीड़ितों को राहत देते हुए निर्णय लिया है कि राष्ट्रीय स्मारक प्राधिकरण का क्षेत्रीय प्रबंधक इस पूरे मामले में जांच करेगा और छह माह में इसकी रिर्पोट उच्च न्यायालय को सौंपेगा।

कई सालों बाद आएगा दल

विभाग के सूत्र बताते हैं कि दिल्ली स्थित राष्ट्रीय स्मारक प्राधिकरण का दल कई सालों बाद किला और इसके इसके आसपास के राष्ट्रीय स्मारकों का निरीक्षण करेगा। प्राधिकरण का दल मुरैना स्थित मितावली-पढ़ावली,बटेसर और भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग द्वारा संरक्षित अन्य स्थानों पर भी जाएगा। इस दौरान वहां की क्या स्थिति है और पर्यटकों को दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में अध्ययन करेगा।

अवैध निर्माणों की सूची देगा विभाग

बताया जाता है कि राष्ट्रीय स्मारक प्राधिकरण के दल को स्थानीय एएसआई किला तलहटी और संरक्षित क्षेत्र में बीते तीन दशकों में जितने भी अवैध निर्माण हुए हैं,उनकी एक सूची देगा ताकि इन सभी अवैध निर्माणों पर कार्रवाई की जा सके। इस सूची में उरवाई घाटी के पास दो कॉलेज,चार स्कूल खेड़ापति कॉलोनी में लगभग दो दर्जन निवास,आधा दर्जन बहुमंजिला इमारत समेत सेवानगर मोहम्मद गौस साहब के मकबरा और दो कॉलोनी भी शामिल हैं।

Updated : 13 Feb 2017 12:00 AM GMT
Next Story
Top