Top
Home > Archived > बहन का दहेज इकट्ठा करने के लिए बन गया बदमाश

बहन का दहेज इकट्ठा करने के लिए बन गया बदमाश

बहन का दहेज इकट्ठा करने के लिए बन गया बदमाश

नई दिल्ली। बहन की शादी करनी है, उसके लिए दहेज भी इकट्ठा करना है लेकिन आर्थिक तंगी के कारण काफी परेशानी हो रही है। इसलिए झपटमारी की वारदात कर बहन का दहेज इकट्ठा करने लगा। यह बात पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए युवक आमिर सिद्दीकी ने कहीं। पुलिस को उसके एक दोस्त सागर सिंह के साथ झपटमारी और चोरी के अन्य कई मामलों में गिरफ्तार किया था। आरोपियों के कब्जे से एक आईपेड समेत दर्जनों महंगे मोबाइल फोन और वारदात में इस्तेमाल स्कूटी बरामद की गई।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बाहरी जिला के स्पेशल स्टॉफ को सूचना मिली कि स्कूटी सवार दो आरोपी वारदात में लूटे सामान को मंगोलपुरी इलाके में बेचने के लिए आने वाले हैं।

सूचना को पुख्ता कर टीम ने मौके पर घेराबंदी कर दोनों आरोपी आमिर और सागर को दबोच लिया। उनके कब्जे से स्कूटी कुछ दिन पहले ही साउथ रोहिणी इलाके से चोरी की थी। आरोपियों से पूछताछ करने पर पता चला कि दोनों हर रोज दो से तीन वारदातों को अंजाम दिया करते थे। सोसायटी में बैठने और गर्लफ्रेंड के साथ मौज-मस्ती के लिए सागर झपटमारी की वारदात को अंजाम दिया करता था। जबकि आमिर को अपनी बहन की शादी करनी थी। जिसके लिए वह उसका दहेज इकट्ठा करने के लिए झपटमारी की वारदात को अंजाम देता था। वारदात के वक्त दोनों उन लोगों को टारगेट करते थे, जिनके पास महंगे फोन होते थे। दोनों पहले भी कई वारदातों को शामिल रहे हैं।

Updated : 2017-12-17T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top