Home > Archived > आॅफिस में महिलाओं से की छेड़खानी तो अब खैर नहीं

आॅफिस में महिलाओं से की छेड़खानी तो अब खैर नहीं

आॅफिस में महिलाओं से की छेड़खानी तो अब खैर नहीं
X

नई दिल्ली। केन्द्रीय मंत्री मेनका गांधी ने कार्यस्थल पर महिलाओं के यौन उत्पीड़न संबंधी शिकायतों को आनलाइन दर्ज कराने के लिए मंगलवार को एक पोर्टल शुरू किया। आनलाइन शिकायत प्रबंधन प्रणाली एसएचई बाक्स (यौन उत्पीड़न इलेक्ट्रानिक बाक्स) महिला एवं बाल कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट पर होगा। मेनका ने संवाददातओं को बताया कि उनके मंत्रालय के तहत एक प्रकोष्ठ आनलाइन दर्ज करवाई गयी प्रत्येक शिकायत को देखेगा। वह इसे संबद्ध संगठन की आतंरिक शिकायत समिति के साथ साझा करेगा। कानून के तहत ऐसी समिति बनाना अनिवार्य है। शिकायतकर्ता इस समिति द्वारा की जारी जांच की स्थिति पर भी नजर रख सकेगी। मेनका ने बताया कि उनके मंत्रालय ने पहले भी सरकारी कर्मचारियों के लिए एक वेब पेज शुरू किया था जिसका विस्तार अब निजी क्षेत्र के लिए भी किया गया है। कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न कानून 2013 के तहत 10 या अधिक कर्मचारी वाले किसी भी संगठन के लिए आतंरिक शिकायत समिति का गठन करना अनिवार्य है जो यौन उत्पीड़न संबंधी शिकायतों का निस्तारण कर सके।

Updated : 2017-11-08T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top