Home > Archived > पानी के टैंक में मिला लापता युवक का शव

पानी के टैंक में मिला लापता युवक का शव

पानी के टैंक में मिला लापता युवक का शव
X

मृतक के पिता ने लगाया हत्या कर शव फेंकने का आरोप

ग्वालियर, न.सं.। पिछले दो दिन से लापता युवक का शव एसएएफ बटालियन स्थित पानी के टैंक में पड़ा मिला है। मृतक के पेट पर चोट का निशान है। संभवत: हत्या करने के बाद उसके शव को टेंक में फेंका गया है। पुलिस ने घटना स्थल का मुआयना करने के बाद शव को विच्छेदन गृह भेजकर मर्ग कायम कर लिया है।

कम्पू थाना क्षेत्र स्थित एसएएफ द्वितीय वाहिनी प्रशिक्षण मैदान में शनिवार को सुबह आरक्षक पारिसर में रखे पानी के टेंक को साफ करने पहुंचा। जैसे ही उसने पानी के टेंक में झांककर देखा तो उसमें युवक का शव दिखा। इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी गई। इसके बाद पुलिस ने मौके पर जाकर युवक का शव टेंक से बाहर निकाला। मृतक की पहचान सतीश पुत्र किशनलाल सेन उम्र 24 वर्ष निवासी आर्मी बजरिया के रूप में हुई। सतीश के परिजन भी एसएएफ मैदान पहुंच गए और काफी देर बाद अपने बेटे का शव पहचान सके। बताया गया है कि सतीश दो दिन से लापता था। उसके पेट पर चोट का निशान साफ दिखाई दे रहा था। संभवत: सतीश की हत्या करने के बाद शव को पानी के टेंक में फेंका गया है। मृतक के पिता ने भी बेटे की हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने घटना स्थल का मुआयना करने के बाद मर्ग कायम कर मामले की विवेचना प्रारंभ कर दी है।

पिता नहीं पहचानसका बेटे का शव

पानी के टेंक में शव मिलने की सूचना मिलते ही किशनलाल भी एसएएफ मैदान पहुंच गए, लेकिन उन्होंने शव देखकर पहचानने से इंकार कर दिया। उनकी पत्नी शांता भी अपने बेटे के शव को नहीं पहचान पाई। इसके बाद जब उनके पड़ोसी पहुंचे, तब सभी ने मिलकर सतीश के शव की पहचान की। परिवार का इकलौता चिराग बुझ जाने से परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया है।

बंधक बनाकर पीटा था मृतक को

बताया गया है कि बस्ती में किसी व्यक्ति का मोबाइल चोरी हो गया था। चोरों को सतीश ने देख लिया था और उसने मोबाइल चोरी करने वालों के बारे में बता दिया। इस मामले में पुलिस संदिग्ध युवकों से पूछताछ की थी। बाद में उक्त युवकों ने सतीश को बंधक बनाकर पीटा था, जिससे सतीश काफी सहम गया था। इसके बाद शनिवार को उसका शव पानी के टेंक में पड़ा मिला। परिजनों का कहना है कि उक्त युवकों ने ही सतीश की हत्या की है।

लापता होने के बाद घर लौट आता था सतीश

सतीश मानसिक रूप से थोड़ा विक्षिप्त था। वह घर से पहले भी एक दो दिन के लिए गायब हो चुका था, लेकिन वापस आ गया था, इसलिए इस बार भी सतीश के लापता होने पर परिजनों ने थाने में शिकायत नहीं की। शव मिलने पर उनको यकीन नहीं हो रहा है कि उनका बेटा अब इस दुनिया में नहीं है।

इन्होंने कहा

‘‘सतीश की मौत किन परिस्थितियों में हुई है। यह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सकेगा। पुलिस मौत के कारणों का पता लगा रही है।’’

महेश शर्मा
कम्पू थाना प्रभारी

Updated : 2017-10-01T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top