Home > Archived > भारतीय निशानेबाजों की निराशाजनक शुरुआत

भारतीय निशानेबाजों की निराशाजनक शुरुआत

भारतीय निशानेबाजों की निराशाजनक शुरुआत
X

भारतीय निशानेबाजों की निराशाजनक शुरुआत


रियो डी जेनेरियो। ओलंपिक में भारतीय निशानेबाजों की शुरुआत निराशाजनक रही। जीतू राय पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल फाइनल में आठवें स्थान पर रहे। वहीं, महिला निशामेबाज अयोनिका पाल और अपूर्वी चंदेला क्वालीफिकेशन दौर से ही बाहर हो गईं।

जीतू कुल 78.7 अंक बनाकर आठ निशानेबाजों में आठवें स्थान पर रहे। वह फाइनल से बाहर होने वाले पहले निशानेबाज रहे। तीन शाट के बाद जीतू का स्कोर 28.9 था। इसके बाद उन्होंने 9.7 का स्कोर किया और अंकतालिका में सबसे नीचे रहे। अगले शॉट पर उनका स्कोर 10.1 था जिससे वह फाइनल की दौड़ से बाहर हो गए।

वियतनाम के विन्ह ने 202.5 के स्कोर के साथ स्वर्ण पदक जीता जबकि ब्राजील के अल्मेइडा को रजत और चीन के वेइ को कांस्य पदक मिला। जीतू अब 10 मीटर एयर पिस्टल में उतरेंगे जिसमें उनका प्रदर्शन अच्छा रहा है। वहीं प्रतिस्पर्धा में एक दूसरे भारतीय निशानेबाज गुरप्रीत सिंह 576 के स्कोर के साथ 20वें स्थान पर रहकर फाइनल में जगह बनाने में नाकाम रहे थे। दोनों महिला निशानेबाज शुरूआती दौर में बाहर हो गई।

चंदेला 411.6 का स्कोर करके 51 निशानेबाजों में 34वें स्थान पर रही जबकि पाल 403 के स्कोर के साथ 47वें स्थान पर रही। चीन की लि डू ने नए ओलंपिक रिकॉर्ड के साथ 420.7 का स्कोर किया।

चंदेला कोरिया में 2015 आईएसएसएफ विश्व कप में दस मीटर एयर राइफल में तीसरे स्थान पर रहकर ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर सकी थी। वहीं उसने म्युनिख में विश्व कप फाइनल में रजत पदक जीता था।

Updated : 2016-08-07T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top