Latest News
Home > Archived > भारत में बगदादी का नया अवतार है जाकिर

भारत में बगदादी का नया अवतार है जाकिर

भारत में बगदादी का नया अवतार है जाकिर

प्रवीण दुबे
सूट पैंट और टाई सिर पर जालीदार टोपी और इस्लाम के नाम पर नफरत फैलाने वाली जुबान यह परिचय है भारत में पनप रहे अबू वकर अल बगदादी अर्थात आईएसआईएस के द्वितीय अवतार जाकिर नाईक का। आतंक का यह नया चेहरा पूरी दुनिया में मुसलमानों खासकर युवाओं को जिहाद के नाम पर दिग्भ्रमित कर आतंक की जमीन तैयार करता है और आगे का काम आईएसआईएस द्वारा इन मुस्लिम युवाओं से दुनिया में तबाही मचाने के लिए किया जाता है।

बांग्लादेश में तीन दिन पूर्व हुए आतंकवादी हमले में 22 लोगों की जान लेने वाले आतंकी मुंबई के इसी इस्लाम प्रचारक जाकिर नाईक के प्रशंसक बताए जा रहे हैं। इस घटनाक्रम के बाद यह पूरी तरह साफ हो गया है कि भारतीय उप महाद्वीप में मुस्लिम युवाओं को आईएसआईएस जैसे आतंकी संगठन की तरफ मोडऩे के लिए इस्लामिक धर्मगुरुओं का सहारा लिया जा रहा है। इसका सबसे बड़ा चेहरा है डॉ. जाकिर नाईक, अफसोस के साथ बेहद चिंता की बात यह है कि मानवता का यह दुश्मन भारत में पैदा हुआ और यहीं से इसने इस्लाम के नाम पर अपनी गतिविधियां प्रारंभ की। पिछले दो दशकों में जाकिर नाईक ने भारत पाकिस्तान और बांग्लादेश सहित पूरी दुनिया में आतंक की फसल तैयार की। आज हालात यह है कि इस दरिंदे के करोड़ों मुस्लिम प्रशंसक हैं और पीस टी.वी नाम से यह धार्मिक भावनाएं भडक़ाने एक चैनल भी संचालित करता है।

यह किस कदर मानवता का दुश्मन है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि यह ओसामा बिन लादेन को आतंकवादी नहीं मानता यह अपने भाषणों में कहता है कि किसी भी ऐसे स्थान पर जहां मुसलमान रहते हैं किसी भी दूसरे धर्म के लोगों को वहां पूजा स्थल बनाने का अधिकार नहीं यदि कोई ऐसा धर्मस्थल वहां स्थापित है तो उसे तोड़ देना चाहिए। आश्चर्य की बात तो यह है कि भारत में कांग्रेस के बड़े नेता दिग्विजय सिंह और गुलाम नबी आजाद इनके समर्थक हैं और इसके साथ जलसों में प्रवचन करते देखे गए हैं। जाकिर नाईक मुस्लिम युवाओं से खुलेआम इस्लाम के लिए बंदूक उठाने की बात करता है।

यं तो भारत में जाकिर का पीस टी.वी प्रतिबंधित है बावजूद इसके मुंबई में कुछ स्थानों पर इसके समर्थक एकजुट होकर चोरी छिपे यह चैनल संचालित करते हैं। निश्चित ही यह सब कुुछ भारत जैसे देश जहां मुसलमानों की संख्या करोड़ों में है के लिए बेहद खतरनाक है। जानकरी के अनुसार मानवता का यह दुश्मन डॉ. जाकिर 15 जुलाई को भारत आने वाला है। देखना यह है कि इसका आतंकी कनेक्शन उजागर होने के बाद भारतीय सुरक्षा एजेंसियां इसे गिरफ्तार करती हैं या नहीं?

Updated : 2016-07-08T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top