Top
Latest News
Home > Archived > बांग्लादेश के गृहमंत्री का दावा , आईएसआईएस नहीं, जमातुल मुजाहिदीन बांग्लादेश के थे सारे आतंकवादी’

बांग्लादेश के गृहमंत्री का दावा , आईएसआईएस नहीं, जमातुल मुजाहिदीन बांग्लादेश के थे सारे आतंकवादी’

बांग्लादेश के गृहमंत्री का दावा , आईएसआईएस नहीं, जमातुल मुजाहिदीन बांग्लादेश के थे सारे आतंकवादी’

बांग्लादेश के गृहमंत्री का दावा , आईएसआईएस नहीं, जमातुल मुजाहिदीन बांग्लादेश के थे सारे आतंकवादी’

ढाका | बांग्लादेश के एक वरिष्ठ मंत्री ने रविवार को कहा कि ढाका में एक रेस्तरां में 20 बंधकों को मौत के घाट उतारने वाले जिहादी बांग्लादेशी आतंकी संगठन से जुड़े थे, न कि इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) समूह से। बांग्लादेश में एक दशक से अधिक समय पहले प्रतिबंधित किए गए एक समूह का जिक्र करते हुए गृहमंत्री असदुज्जमां खान ने कहा, ‘वे जमीयतुल मुजाहिदीन बांग्लादेश के सदस्य हैं।’ उन्होंने कहा, ‘उनका इस्लामिक स्टेट से कोई संबंध नहीं है।’

बांग्लादेश की राजधानी ढाका में उच्च सुरक्षा वाले राजनयिक क्षेत्र स्थित एक रेस्तरां में इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) के आतंकवादियों के हमले में मारे गए 20 बंधकों में भारतीय लड़की तारिषि जैन सहित अमेरिकी विश्वविद्यालयों के तीन छात्र शामिल हैं। यूसी बर्कले की छात्रा 18 वर्षीय तारिषि जैन छुट्टी मनाने ढाका गई थी जिसकी हमले में मौत हो गई। बांग्लादेशी मूल के दो अन्य छात्र अबिंत कबीर और फराज हुसैन अटलांटा की एमोरी यूनिवर्सिटी के छात्र थे। एमोरी यूनिवर्सिटी ने बताया कि बांग्लादेशी मूल का अबिंत मियामी से था। वह एमोरी के ऑक्सफोर्ड कॉलेज में द्वितीय वर्ष का छात्र था। फराज ढाका से था और ऑक्सफोर्ड कॉलेज का स्नातक तथा यूनिवर्सिटी के गोइजुएटा बिजनेस स्कूल का छात्र था। हालांकि सुरक्षा बलों ने 13 बंधकों को मुक्त करा लिया और छह हथियारबंद आतंकवादियों को मार गिराया।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद की रहने वाली तारिषी जैन की इस आतंकवादी हमले में मौत की पुष्टि की है। सुषमा ने अपने एक ट्वीट में भारत की बेटी की इस जघन्य हत्या पर बेहद अफसोस जताया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से बात की और हमले की कड़े शब्दों में निंदा की। आईएसआईएस के आतंकियों ने बांग्लादेश में अब तक के सबसे भीषण आतंकी हमले में ढाका के राजनयिक क्षेत्र स्थित लोकप्रिय कैफे में बंधकों की हत्या कर दी थी। बाद में कल कमांडो ने जवाबी कार्रवाई कर छह हमलावरों को ढेर कर दिया था और एक को जिन्दा पकड़ लिया था।

Updated : 2016-07-03T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top