Latest News
Home > Archived > भगवंत मान के वीडियो पर बवाल, लोकसभा स्पीकर ने दिए जांच के आदेश

भगवंत मान के वीडियो पर बवाल, लोकसभा स्पीकर ने दिए जांच के आदेश

भगवंत मान के वीडियो पर बवाल, लोकसभा स्पीकर ने दिए जांच के आदेश
X

भगवंत मान के वीडियो पर बवाल, लोकसभा स्पीकर ने दिए जांच के आदेश

नई दिल्ली| संसद परिसर की वीडियोग्राफी करने के मामले में आम आदमी पार्टी (आप) के सांसद भगवंत मान की मुश्किलें बढ़ गई हैं। लोकसभा स्पीकर ने इस मामले के जांच के आदेश दे दिए हैं। गौर हो कि भगवंत मान ने गुरुवार को कई सुरक्षा परतों को पारकर संसद में प्रवेश का एक वीडियो फिल्माया और इसे सोशल मीडिया पर पोस्‍ट कर दिया। इसको लेकर विभिन्न दलों के सांसदों ने उनकी आलोचना करते हुए उनके कृत्य को सुरक्षा का उल्लंघन बताया।

भगवंत मान के इस वीडियो पर विवाद अब काफी बढ़ गया है। इसके बाद लोकसभा स्‍पीकर ने इस मामले का संज्ञान लिया और कहा कि वीडियो की जांच होगी। लोकसभा स्‍पीकर ने संसद वीडियोग्राफी मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं। वहीं, शिरोमणि अकाली दल (एसएडी) लोकसभा में विशेषाधिकार प्रस्‍ताव लाएगी।

उधर, भगवंत मान ने कहा कि उनका संसद की सुरक्षा से खिलवाड़ का इरादा नहीं है। मैं केवल शून्‍यकाल में सवाल पूछने की प्रकिया बताना चाहता था। अब सवाल ये उठ रहा है कि आप सांसद के लिए संसद की सुरक्षा ज्‍यादा जरूरी है या शूटिंग। वाइरल हुए वीडियो में मान को प्रवेश द्वार दर्शाते दिखाया गया है जिससे सांसद संसद भवन में प्रवेश करते हैं और वह कह रहे हैं कि कितनी मजबूत सुरक्षा है।

सुरक्षा की कई परतों को पार करके शूट किए गए वीडियो में मान कह रहे हैं, ‘कार लोकसभा में पंजीकृत है। इसमें एक सेंसर हैं, जिसमें वाहन का विवरण है। जैसे ही आप गेट के निकट पहुंचते हैं, सेंसर कार की पहचान करती है और कार के नाम और नंबर की घोषणा करती है।’

कृत्य को उचित ठहराते हुए मान ने कहा कि उनकी मंशा यह दिखाने की थी कि कैसे शून्यकाल के प्रश्न जमा किए जाते हैं और अपने मुद्दों को उठाने की इच्छा रखने वाले सांसद लकी ड्रा के जरिए चुने जाते हैं। संसद भवन में जहां मान स्पष्ट कर रहे हैं कि कैसे प्रक्रिया काम करती है, वहीं एक स्टाफ ने उनसे अनुरोध किया कि वह कुछ भी नहीं फिल्माएं।

मान ने कहा कि क्या मेरे वीडियो ने संसद को खतरे में डाल दिया है। कैसे यह अवैध है। मैं फिर से वीडियो बनाउंगा और इसे डालूंगा। नोटिस आने दें। सांसदों ने मामले की जांच की मांग की।

भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने मांग की कि मान से उनके कृत्य के लिए सुरक्षा एजेंसियों को पूछताछ करनी चाहिए। लेखी ने कहा कि अगर ऐसा हुआ है तो वह सिर्फ मूखर्तावश या कुछ गैर जिम्मेदार ताकतों के इशारे पर हुआ है। भगवंत मान से सुरक्षा एजेंसियों को पूछताछ करनी चाहिए।

कांग्रेस सांसद पी एल पूनिया ने कहा कि यह कृत्य सुरक्षा का उल्लंघन है। इस कृत्य को अनुचित बताते हुए पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी ने उम्मीद जताई कि लोकसभा अध्यक्ष इस संबंध में समय पर और उचित कदम उठाएंगे। वहीं, जेडीयू सांसद केसी त्यागी ने कहा कि वह आश्चर्यचकित हैं क्योंकि वीडियो ने सुरक्षा की कमियों का खुलासा किया है।

त्यागी ने कहा कि मैं वीडियो से आश्चर्यचकित हूं। लोकसभा अध्यक्ष ने संसद की सुरक्षा पर एक समिति बनाई है और वह अपनी रिपोर्ट सौंपगी। लेकिन हम कमियों के कारण डरे हुए हैं। राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, लोकसभा अध्यक्ष और प्रधानमंत्री से हमारा अनुरोध है कि इस मामले की उच्चस्तरीय जांच कराएं। त्यागी ने कहा कि इस बात पर चर्चा हो सकती है कि क्या उन्होंने प्रचार पाने के लिए ऐसा किया या वह सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट करना चाहते थे।

Updated : 2016-07-22T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top