Home > Archived > भारत की जरूरत के हिसाब से 7. 5 फीसदी की विकास दर काफी नहीं:वित्त मंत्री

भारत की जरूरत के हिसाब से 7. 5 फीसदी की विकास दर काफी नहीं:वित्त मंत्री

भारत की जरूरत के हिसाब से 7. 5 फीसदी की विकास दर काफी नहीं:वित्त मंत्री
X

भारत की जरूरत के हिसाब से 7.5 फीसदी की विकास दर काफी नहीं:वित्त मंत्री

वाशिंगटन | केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि भारत की 7.5 प्रतिशत की मौजूदा विकास दर उसकी अपनी जरूरत के स्तर के हिसाब से काफी नहीं है और देश में ‘बेहतर’ करने की ‘क्षमता’ है।

भारत के निर्यात में गिरावट पर चिंता जाहिर करते हुए जेटली ने कहा कि देश के विकास के मापदंड सही रास्ते पर हैं। सरकार समावेश के साथ सुधार के अपने एजेंडे पर आगे बढ़ रही है और अपने सभी राजकोषीय मापदंडों को सफलतापूर्वक पूरा कर रही है।

उन्होंने एक वैश्विक अमेरिकी थिंक टैंक कार्नेगी एनडाउमेंट फॉर इंटरनेशनल पीस में कहा कि मौजूदा स्थिति में वैश्विक मापदंडों के अनुरूप 7.5 प्रतिशत (की विकास दर) के जरिए क्या हम बेहतर कर रहे हैं? जवाब हैं हां, लेकिन हमारी अपनी जरूरतों के मापदंडों के हिसाब से क्या हम पर्याप्त रूप से अच्छा कर रहे हैं? मुझे लगता है कि हम बेहतर कर सकते हैं।’

Updated : 14 April 2016 12:00 AM GMT
Next Story
Top