Latest News
Home > Archived > बोको हरम के प्रत्येक 5 फिदायीन में एक मासूम बच्चा

बोको हरम के प्रत्येक 5 फिदायीन में एक मासूम बच्चा

बोको हरम के प्रत्येक 5 फिदायीन में एक मासूम बच्चा
X

बोको हरम के प्रत्येक 5 फिदायीन में एक मासूम बच्चा

डकार। संयुक्त राष्ट्र के अनुसार अफ्रीकी देशों में होने वाले प्रत्येक पांच आत्मघाती हमलों में से कम से कम एक में बच्चों को बम के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। ​पिछले साल आतंकवादी संगठन बोको हराम की ओर से किए गए हर पांच आत्मघाती हमलों में से एक में बच्चे शामिल थे। रिपोर्ट के मुताबिक अपने नापाक मंसूबों को अंजाम देने के लिए बोको हरम मासूम बच्चों का सहारा ले रहा है। प्रत्येक पांच फिदायीन में से एक फिदायीन मासूम है। इतना ही नहीं, बोको हरम खासतौर से मासूम बच्चियों की भर्ती कर रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक साल 2014 में फिदायीन हमलों के लिए 4 बच्चों का इस्तेमाल किया गया, जबकि 2015 में ये आंकड़ा बढक़र 44 हो गया। बताया जा रहा है कि अब तक जिस फिदायीन बच्चे का इस्तेमाल किया गया उसकी ऊम्र महज 8 साल थी। कुछ महीनों पहले इस्लामी आतंकी संगठन बोको हरम ने अफ्रीका के चाड में हजारों लोगों के अपहरण और सिर कलम करने के साथ साथ भूख से तड़प कर मरने के लिए मजबूर कर दिया था।

एक अंग्रेजी अखबार की खबर के मुताबिक यूनिसेफ के अधिकारी लेंजर ने कहा कि बोको हरम के प्रभाव वाले इलाकों के हालात भयावह हैं। उन्हें शब्दों में बयां कर पाना मुश्किल है। दो साल पहले बोको हरम ने नाइजीरिया के चाइबोक में 300 लड़कियों का अपहरण कर लिया था। उसमें से कुछ लड़कियां बच निकलने में कामयाब रहीं लेकिन ज्यादातर अभी भी लापता हैं। बोको हरम का सामना करने के लिए अमेरिका समेत कई देश अभियान चला रहे हैं। अपने प्रभाव को स्थापित करने में नाकाम रहने के बाद बोको हरम के आतंकी फिदायीन हमलों की मदद ले रहे हैं। जिसकी पुष्टि आंकड़ों से भी होती है। साल 2014 में फिदायीन हमलों की संख्या 32 थी जबकि साल 2015 में ये संख्या 151 हो गयी। साल 2015 में चाड, कैमेरून औप नाइजर बोको हरम के निशाने पर सबसे ज्यादा रहे।

Updated : 2016-04-13T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top