Home > Archived > फर्जी पत्रकार ने नौकरी के लिए लोगों को ठगा

फर्जी पत्रकार ने नौकरी के लिए लोगों को ठगा

पीडि़तों ने मारपीट कर पुलिस को सौंपा

अलीगढ़। टीवी न्यूज चैनलों में नौकरी लगवाने के नाम पर लोगों से रुपये ऐंठने वाले कथित पत्रकार को पीडि़तों ने शनिवार को मारपीट कर क्वार्सी पुलिस के हवाले कर दिया। रिकार्डिंग में आरोपी द्वारा पैसे लेने की बात कही है लेकिन पुलिस पूछताछ में आरोपी पैसे लेने की बात से इंकार कर रहा था।

बताया जाता है कि स्वर्ण जयंती नगर निवासी वेदप्रकाश हाईप्रोफाइल जिंदगी जीने का आदी है और वह स्कार्पियो गाड़ी में चलता है, अपने आपको मान्यता प्राप्त पत्रकार बताने वाला वेदप्रकाश लखनउ से प्रकाशित किसी अखबार का प्रमुख संवाददाता बताता है और एक न्यूज चैनल में नौकरी दिलाने के नाम पर कई लोगों से बीस-बीस हजार रुपये ठग चुका है। जब कुछ पत्रकारों को इस ठग के बारे में पता चला तो उन्होंने उससे मोबाइल पर नौकरी की बात की तो उसने उनकी भी नौकरी लगवाने का भरोसा दिया। कथित पत्रकार के झांसे में आकर उसे रुपये देने वाले लोगों की पांच-छ: महीने में भी नौकरी न लगने से वह उसे तलाश कर रहे थे। शनिवार को वह कुछ लोगों के हत्थे चढ़ गया तो उससे रुपये वापस मांगे लेकिन उसने रुपये वापस करने के बजाय उनके साथ मारपीट कर दी। सूचना पर काफी लोग पहुंच गये और पुलिस को बुलाकर वेदप्रकाश को उसके हवाले कर दिया। इस सम्बन्ध में पीडि़तों की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने की कार्रवाही की जा रही थी। एसओ रविन्द्र बहादुर सिंह को भी आरोपी एक मामले में दबाव में लेने का प्रयास कर चुका था और अभी कुछ दिन पहले एसओ को अच्छा अधिकारी बताकर उन्हें गुलदस्ता भेंट कर चुका है।

Updated : 6 March 2016 12:00 AM GMT
Next Story
Top