Latest News
Home > Archived > भारत विकास परिषद का उद्देश्य सेवा भावना

भारत विकास परिषद का उद्देश्य सेवा भावना

नि:शुल्क दिव्यांग शिविर के शुभारंभ पर मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा

दतिया। भारत विकास परिषद द्वारा यह सेवाएं सेवा भावनाओं के नाम से जानी जाती है। इस परिषद का मुख्य उद्देश्य यह है कि जो लोग मानसिक रूप से दिव्यांग हो गए है उन्हें भी आगे बढ़ावा मिल सकें। यह परिषद देश के बारे में सोचती है कि हमारा देश हमेशा उन्नति की ओर बढ़ता रहे। हमारे देश में चाहे गरीब हो, चाहे अमीर हो प्रत्येक व्यक्ति हर क्षेत्र में उन्नति करे जिससे देश का नाम रोशन हो सकें। उन्होंने कहा कि जो लोग हमारी संस्कृति पर आरोप लगा रहे है वह गलत है। हमारी संस्कृति और सभ्यता इतनी अच्छी है कि उससे दूसरे लोग सीख लेते है। हमारे देश में देश भक्ति की भावना कूट-कूट कर भरी हुई है। उक्त बात प्रदेश के कैबिनेट मंंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने भारत विकास परिषद शाखा दतिया द्वारा नि:शुल्क दिव्यांग शिविर के शुभारंभ अवसर पर गहोई वाटिका में आयोजित कार्यक्रम में कही।

उन्होंने कहा कि हमारी संस्कृति और हर समाज में इतनी मजबूती रही है कि हमारे देश पर किसी भी प्रकार की आपत्ति आने पर कोई असर नहीं पड़ता है और हमारी, एकता, अखंडता हमेशा वरकरार रहती है। हम लोग सेवा के साथ-साथ संस्कृति और सभ्यता को पहचानते है। यह पहचान जरूर अलग-अलग समाज में बटी हुई है लेकिन देश के लिए एक ही है। उन्होंने कहा कि यह शिविर दिव्यांगों के लिए महत्वपूर्ण है। जिससे लोगों का भविष्य सुधर सकता है और कई लोग आगे बढ़कर अपना भविष्य उज्जवल बना सकते है। मैं इस परिषद की टीम को बहुत-बहुत बधाई देता हूॅ और साधूवाद करता हूॅ। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि म.प्र.पाठ्य पुस्तक निगम के उपाध्यक्ष अवधेश नायक रहे तथा अध्यक्षता भारत विकास परिषद के प्रांतीय अध्यक्ष डॉ. एस.बी. शर्मा ने की। कार्यक्रम में मंचासीन भाजपा जिलाध्यक्ष विक्रम बुन्देला, प्रांतीय सुयक्त सचिव भा.वि.प. नितिन गुगौरिया, संरक्षक डॉ.रतन सूर्यवंशी, नगर पालिका अध्यक्ष सुभाष चन्द्र अग्रवाल, जिला संयोजक बल्लभ अग्रवाल अध्यक्ष डॉ.रूपेश श्रीवास्तव, सचिव प्रदीप काले, तथा शिविर संयोजक डॉ.कपिल गोयल उपस्थित रहे।

विशिष्ट अतिथि श्री नायक द्वारा भारत विकास परिषद के सेवा व संस्कार के कार्यो की समाज को दी जा रही सेवा को अनुकरणीय पहल बताया। प्रांतीय अध्यक्ष डॉ.एस.बी.शर्मा ने परिषद के कार्यो की विस्तार से जानकारी दी तथा बताया कि देश के अन्दर परिषद की 1300 शाखाएं सेवाकार्य में तत्पर है। अंत में मुख्य अतिथि सहित, विशिष्ट अतिथि तथा भाजपा जिलाध्यक्ष का सम्मान स्मृति चिन्ह लाल चन्द्र आडवानी, जितेन्द्र श्रीवास्तव, अनूप निगम द्वारा भेंट किए गए। आभार सचिव प्रदीप काले द्वारा एवं संचालन डॉ.रूपेश श्रीवास्तव द्वारा किया गया। इस अवसर पर जिला पंचायत सी.ई.ओ. धनजंय मिश्रा, कमलू चौबे, विनय गुप्ता, बृजेश ढ़ेगुला, राजू त्यागी, सतीष यादव, इस अवसर पर श्रीमती कुमकुम रावत, श्रीमती कृष्णा कुशवाहा, सहित परिषद के रोहित अग्रवाल, रामचन्द्र गुलवानी, भगवान सिंह कुशवाह, कालीचरण कुशवाह, राजेन्द्र गुप्ता (मुनीम), जितेन्द्र गोस्वामी, अमित गुगौरिया, पशुपतिराज सिंह, अखिलेश दॉतरे, अजय गुप्ता, अभय सक्सैना, एस.एस.गुप्ता, उमेश विजपुरिया, संजीव नाहर, नीरज श्रीवास्तव, कृष्णकांत श्रीवास्तव एडवोकेट, सुमित शर्मा, अजय तिवारी, आनन्द चउदा, संजय यादव, राकेश रूसिया, अशोक सोनी, देवेन्द्र सोनी, हीरा सिंह सरदार सहित शहर के गणमान्य नागरिक भारी संख्या में उपस्थित रहे।

स्वास्थ्य मंत्री ने 10 सफाई गाडिय़ा नगर पालिका को सौंपी
मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा द्वारा आज गहोई वाटिका से स्वच्छता अभियान के तहत् नगर में प्रत्येक मोहल्ला स्वच्छ रहे इस उद्देश्य से शासन द्वारा प्रदेश में प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने के उद्देश्य से 10 सफाई गाडिय़ा इस जिले को नगर पालिका को प्राप्त हुई है। जिन्हें स्वास्थ्य मंत्री द्वारा नगर पालिका को सौंपी गई। यह गाडिय़ा प्रत्येक मोहल्ले के घर-घर जाकर घंटी बजाकर घर कचड़ा लेगी। जिससे प्रत्येक व्यक्ति कचरे को मोहल्ले में इधर-उधर न फेंकेगे। जिससे मोहल्ला साफ रहेगा। इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा द्वारा स्वयं गाड़ी चलाकर नगर पालिका को सौंपी। इस अवसर पर सभी जनप्रतिनिधि व नगर पालिका के अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित रहे।

Updated : 2016-03-05T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top