Top
Home > Archived > देवगढ़ व जाखलौन क्षेत्र में गहराया पेयजल संकट

देवगढ़ व जाखलौन क्षेत्र में गहराया पेयजल संकट

कस्बेवासियों ने जिलाधिकारी से की नये हैण्डपंप लगवाये जाने की मांग

जाखलौन(ललितपुर)। जनपद में पिछले साल बारिश न होने के कारण नगर सहित ग्रामीणों इलाकों में सूखे का असर साफ-साफ दिखने लगा है। इस समय खेत-खलियानों में पानी तो दूर की बात है, लोगों को पेयजल के लिये भी संकट खड़ा हो गया। अभी तो यह एक शुरूआत है, आने वाले दिनों में पेयजल समस्या और गहराती जायेगी। ऐसा ही हाल जाखलौन क्षेत्र का जहां के कई गॉवों में पेयजल संकट गहराया गया है। कहीं-कहीं हैण्ड़पम्पों में पानी नही निकल रहा है। तो कहीं जंगाल युक्त पानी निकलने से लोगों को गन्दा पानी पीने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

जाखलौन में लगे कई हैण्ड़पम्प खराब है अरुण शर्मा के मकान के पास लगा हैण्ड़पम्प कई दिनों से खराब हो गया है। जिसे ठीक नही कराया जा रहा है। वही बड़ापुरा में लगा सहरिया बस्ती का हैण्ड़पम्प भी कई महिनों से खराब पड़ हुआ। आलम यह है कि लोग पीने के पानी की एक-एक बूंद के लिए मोहताज हो रहे हैं। पर्यटन एंव तीर्थ क्षेत्र देवगढ़ में तो पीने के पानी की इतनी किल्लत हो गई है। कि लोगों को थोड़े-थोड़े पानी में ही अपनी गुजर करने के लिए बिवस होना पड़ रहा है। लोग बताते है कि ऐसी पानी की किल्लत कभी नही हुई है। जैसी अब होने लगी है। जबकि गांव में वेतबा नदी निकली है फिर भी पेयजल की समस्या पैदा होने लगी है। गांव मे लगे हैण्ड़पम्पों को रिबोर कराऐ जाने एंव कुछ नये हैण्ड़पम्प लगाऐ जाने की जरुरत है। गांव में जलसंस्थान की जो मोटर लगी है वह पानी नही पकड़ रही है। लाख प्रयास के बाबजूद वह पानी की सप्लाई ठीक तरह से नही दे पा रही है। जिससें लोगों के सामने पेयजल की समस्या पैदा हो गई है।

विगत दिवस इस सम्बंध में जब जिलाधिकारी को अबगत कराया गया तब जलसंस्थान द्धारा इस ओर संज्ञान लिया गया और मोटर खराब होनेे पर गॉब में टैंकर से पेयजल व्यबस्था बनाने की अस्थाई व्यबस्था बनाई गई है। लेकिन पूरी तरह से व्यबस्था में सुधार नही हो सका है। जनहित में क्षेत्रीय लोगों ने जिलाधिकारी से देवगढ़ में लगे खराब पड़े हैण्ड़पम्प अबिलम्ब ठीक कराने एंव कुछ नये हैण्ड़पम्प लगवाये जाने की मॉग की है ताकि लोगों को पेयजल की समस्या से निजात मिल सके।

Updated : 2016-03-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top