Top
Home > Archived > दहेज लोलुपों ने बहू को दहेज के लिए किया प्रताडि़त

दहेज लोलुपों ने बहू को दहेज के लिए किया प्रताडि़त

पीडि़ता पहुंची थाने

शिवपुरी। दहेज के लिए शिवपुरी में रहने वाले एक कुशवाह परिवार ने अपनी बहू को दहेज के लिए प्रताडि़त किया और उसे घर से निकाल दिया। जिससे परेशान पीडि़ता ने पुलिस की शरण ली और आरोपियों के खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध करा दिया। पुलिस ने इस मामले में पीडि़ता के पति सास, ससुर और ननद के खिलाफ धारा 498 ए भादवि सहित 3/4 दहेज प्रतिषेध अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है।
जानकारी के अनुसार पीडि़ता आरती पुत्री प्रीतम कुशवाह का विवाह शिवपुरी में 18 सितम्बर 2013 को आरोपी मनीष कुशवाह के साथ हुआ था। उस समय पीडि़ता के पिता ने अपनी हैसियत के अनुसार खूब दानदहेज देकर बेटी को विदा किया था। विवाह के कुछ समय तक तो आरोपी पति मनीष कुशवाह, ससुर भागीरथ, सास रामश्री और ननद हेमलता ने उसे ठीक से रखा लेकिन विवाह के एक वर्ष वाद आरोपीगणों ने उससे दहेज में एक लाख रुपए लाने के लिए प्रताडि़त करना शुरू कर दिया। दिन-प्रतिदिन आरोपियों का लोभ बढ़ता गया और उन्होंने आरती को प्रताडऩाएं देना शुरू कर दिया और उसे घर से भगा दिया तब से वह अपने पिता के यहां रह रही है। इस दौरान पीडि़ता के पिता प्रीतम कुशवाह ने कई बार आरोपियों को समझाने का प्रयास किया लेकिन वह बिना दहेज लिए आरती को अपनाने को तैयार नहीं थे। आरोपियों के हट को देखकर आरती ने पुलिस थाने पहुंचकर प्रकरण दर्ज करा दिया।

Updated : 2016-02-07T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top