Top
Home > Archived > दो मार्च तक मांगे पूर्ण न हुई तो सभी विभागों के इंजीनियर्स करेंगे हड़ताल

दो मार्च तक मांगे पूर्ण न हुई तो सभी विभागों के इंजीनियर्स करेंगे हड़ताल

नौंवे दिन भी काम बंद हड़ताल पर डटे रहे डिप्लोमा इंजीनियर्स

उरई। उत्तर प्रदेश इंजीनियर्स महासंघ के प्रांतीय निर्देश पर डिप्लोमा इंजीनियर्स की चल रही काम बंद हड़ताल आज शुक्रवार को नौवें दिन भी जारी रही। हड़ताल के चलते जहां निर्माण कार्य प्रभावित हो रहे हैं तो वहीं शासन द्वारा आंदोलन के बाद भी लंबित मांगों को लेकर सहानुभूति पूर्वक विचार न किये जाने से आहत डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ ने ऐलान किया कि यदि 2 मार्च तक सभी मांगे पूरी न हुयी तो वह सभी विभागों के डिप्लोमा इंजीनियर्स हड़ताल में शामिल होने को विवश होंगे।


कार्य बहिष्कार के नौवें दिन संघर्ष समिति के चेयरमैन केपी मिश्रा ने बताया कि समस्त विभागों की माप पुस्तिकाएं एवं हड़ताल फार्म जमा करा दिए गए है एवं केन्द्रीय नेतृत्व के आदेश पर सभी डिप्लोमा इंजीनियर्स पूरे जोश के साथ कार्य बहिष्कार के अपने निर्णय पर अंतिम समय तक डटे रहेंगे। उन्होंने कहा कि जब तक प्रदेश सरकार उनकी लंबे समय से लंबित मांगों को पूरा करने का ऐलान नहीं करेगी उनका आंदोलन इसी तरह से चलता रहेगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे इं. आरसी पस्तोर ने की। हड़ताली साथियों को संबोधित करते हुये मंडल संगठन सचिव इं. सतीश कुमार वर्मा ने कहा कि जूनियर इंजीनियर्स को प्राविधानित अवधि सात, चौदह, बीस वर्ष की सेवा पर सहायक अभियंता, अधिशाषी अभियंता व अधीक्षण अभियंता के पदों पर पदोन्नति न किया जाना शासन की वायदा खिलाफी है इसको हम शासन से लेकर के रहेंगे। उन्होंने साथियों की हौंसला आफजाई करते हुये कहा कि जब तक संघर्ष नहीं होता तब तक कोई सरकारी लंबित मांगों को पूरा नहीं करती है। लेकिन अब साथी संघर्ष के मैदान में उतर आये हैं तो वह अंतिम दौर तक चलता रहेगा जब तक कि उनकी सभी मांगे पूरी नहीं हो जाती।

साथियों को संबोधित करने वाले मुख्य वक्ताओं में इं. सरिता वर्मा, इं. वर्षा वर्मा, इं. आरके द्विवेदी, इं. भगवती प्रसाद, इं. राजकुमार, इं. मंगल सिंह, इं. अरूणेन्द्र सचान, इं. प्रेमशंकर यादव, इं. राजेश कटियार, इं. देवीदयाल, इं. मनोज साहू ने कहा कि आंदोलन करना हम सभी का अधिकार है जो चीज बगैर मांगे नहीं मिलती है उसे हासिल करने के लिये आंदोलन करना ही एक रास्ता होता है उसी रास्ते का हमारे साथी अनुसरण कर रहे हैं। नौंवेे दिन आंदोलन का संचालन इं. प्रशांत सक्सेना ने किया इस दौरान बड़ी संख्या में डिप्लोमा इंजीनियर्स उपस्थित रहे।

Updated : 2016-02-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top