Home > Archived > आधार कार्ड के बिना राशन नहीं दे रहे कोटेदार

आधार कार्ड के बिना राशन नहीं दे रहे कोटेदार

मोमिन अंसार सभा ने ज्ञापन दिया डीएम को

उरई। बिना आधार कार्ड के राशन सामग्री वितरित न करने तथा उपभोक्ताओं को परेशान करने से कोटेदारों के रवैये को लेकर आज उत्तर प्रदेश मोमिन अंसार सभा ने जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर कार्यवाही की मांग क मोमिन अंसार सभा के जिलाध्यक्ष मो. अयूब अंसारी, शहर अध्यक्ष मो.मतहर अंसारी, शौक चांदपुरी, मो.असलम अंसारी, फरीदउद्दीन अंसारी आदि ने नगर मजिस्टेऊट को दिए ज्ञापन में अवगत कराया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 को जनपद जालौन में जनवरी 13 से लागू कर दिया गया है।

जिला पूर्ति कार्यालय द्वारा कई बार आवेदन भरवाये जाने के कारण इस योजना के तहत माह जनवरी व फरवरी में सस्ता गल्ला एवं चीनी विक्रेताओं को जो सूची उपलब्ध कराई है उसमें बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की गई है। जिस मोहल्ला के उपभोक्ता को दिसम्बर 15 में राशन सामग्री मिलती थी अब उस उपभोक्ता को पिछले कोटेदार से हटा कर अन्यत्र कर दिया गया। जिससे उपभोक्ता अपना नाम तलासने के लिए इधर-उधर भटक रहे उपभोक्ताओं को अपना नाम नही मिल रहा है।उक्त आवेदन पत्र भरने ऑनलाइन कराने वाले हजारो उपभोक्ता राशन पानी से महरूम है। विशेषकर मुस्लिम समाज के लोग अनपढ़ व मेहनत मजूदरी करने वाले लोग है और महिला मुखिया होने के नाते कई दुकानों पर अपना नाम ढूडऩे से राशन से बंचित है। 14 फरवरी को मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र बजरिया मदरसा अरबिया रहमानियां उरई में एक शिविर का आयोजन किया गया था जिसमें वंचित पात्र उपभोक्ताओं की सूची उपलब्ध कराई गई थी। उन उपभोक्ताओं को शीघ्र राशन उपलब्ध कराया जाये, सूची में शामिल उपभोक्ताओं की अगर जांच जरूरी हो तो निष्पक्ष जांच कराई जाये। जिला पूर्ति कार्यालय द्वारा जो सूची कोटेदारों को आवंटित की गई है उसमें कई खामियां है और कोटेदार बिना राशन के उपभोक्ताओं को वापस कर रहे है। इसलिए कारण धारको को उनके नजदीक कोटेदार की सूची में नाम शामिल किया जाये। चूंकि जिला पूर्ति कार्यालय के आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 15 फरवरी 16 बताई गई है इसके बावजूद बहुत सारे गरीब नागरिक अपना आवेदन जमा करने से वंचित रह गये है। इसलिए उनके आवेदन जमा किए जाये।

Updated : 2016-02-20T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top