Home > Archived > पांच स्वर्ण कारोबारियों के यहां एक साथ सर्वे

पांच स्वर्ण कारोबारियों के यहां एक साथ सर्वे

ग्वालियर। आयकर विभाग द्वारा कर अपवंचन को लेकर बुधवार को सराफा कारोबारियों पर सर्वे की कार्रवाई की गई। यह कार्रवाई टोपी बाजार स्थित ए.पी. ज्वैलर्स, राधा कृष्ण मार्केट में समृद्धि ज्वैलर्स, डीडवाना ओली में न्यू नयनतारा एवं सराफा बाजार में गुलाबचंद सीताराम सर्राफ और जेवर संस्थान पर की गई है। वहीं दूसरी ओर मैना वाली गली स्थित ए.पी. ज्वैलर्स के संचालक प्रकाश अग्रवाल के घर पर नहीं होने के कारण दोपहर दो बजे के बाद आयकर विभाग की टीम वापस लौट आई है। आयकर विभाग की यह कार्रवाई विभाग के संयुक्त आयुक्त डॉ. प्रशांत खाम्बरा के नेतृत्व में की गई। कार्रवाई में बीस अधिकारियों के साथ पुलिस बल भी शामिल था। आयकर विभाग की टीम ने बुधवार को दोपहर 12.15 बजे से कार्रवाई शुरू की। यह टीम जैसे ही स्वर्ण कारोबारियों के संस्थानों पर पहुंची तो इसे देख व्यापारियों के हाथ-पैर फूल गए। टीम ने यहां पहुंचते ही सभी बहीखातों को अपने कब्जे में ले लिया। कार्रवाई देर रात तक चलती रही। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि गुरुवार तक इस कार्रवाई के बारे में बड़ा खुलासा किया जा सकता है।
ए.पी. ज्वैलर्स के घर से लौटी टीम
आयकर विभाग की एक टीम मैना वाली गली स्थित ए.पी. ज्वैलर्स के संचालक प्रकाश अग्रवाल के घर से लौट आई। जानकारी के अनुसार विभाग की कार्रवाई शुरू होने से पहले श्री अग्रवाल की ससुराल में किसी का निधन हो गया था, जिससे उन्हें शहर से बाहर जाना पड़ा। आयकर विभाग की टीम द्वारा देर तक इंतजार करने के बाद भी वह नहीं आए तो टीम को बैरंग वापस लौटना पड़ा।
132 करोड़ का लक्ष्य पूरा करना है
आयकर विभाग को वित्तीय वर्ष 2015-16 के लिए कर के रूप में 132 करोड़ रुपए इकट्ठा करने का लक्ष्य दिया गया है। इसी लक्ष्य को लेकर इस प्रकार की कार्रवाई की जा रही है। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि इस प्रकार की कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी।
एक नजर में
* कई संस्थानों पर शटर बंद करके कार्रवाई हुई।
* कार्रवाई के दौरान स्वर्ण कारोबारियों ने सहालगी ग्राहकों को लौटाया।
* स्वर्ण कारोबारियों में दिन भर मची रही खलबली।
* दुकानों से किया दो नम्बर का सोना गायब।

Updated : 2016-02-18T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top