Latest News
Home > Archived > भाजपा के टिकट दावेदारों में पूरन प्रकाश के आने से खड़ी हुई चुनौती

भाजपा के टिकट दावेदारों में पूरन प्रकाश के आने से खड़ी हुई चुनौती

मथुरा। रालोद विधायक पूरन प्रकाश ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम कर बल्देव सुरक्षित सीट पर भगवा दल से विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटे भाजपाईयों के समक्ष गंभीर चुनौती खड़ी कर दी है।

राष्ट्रीय लोकदल के बैनर तले पूर्व में गोवर्धन सुरक्षित सीट और फिर बल्देव विधानसभा सुरक्षित सीट से विधायक रहे पूरन प्रकाश द्वारा पार्टी छोड़ा जाना रालोद के लिये करारा झटका माना जा रहा है। इससेभाजपा के टिकट दावेदारों में पूरन प्रकाश के आने से खड़ी हुई चुनौती

मथुरा। रालोद विधायक पूरन प्रकाश ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम कर बल्देव सुरक्षित सीट पर भगवा दल से विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटे भाजपाईयों के समक्ष गंभीर चुनौती खड़ी कर दी है।

राष्ट्रीय लोकदल के बैनर तले पूर्व में गोवर्धन सुरक्षित सीट और फिर बल्देव विधानसभा सुरक्षित सीट से विधायक रहे पूरन प्रकाश द्वारा पार्टी छोड़ा जाना रालोद के लिये करारा झटका माना जा रहा पूर्व वे और उनके परिवार के सदस्य जिला पंचायत अध्यक्ष के साथ ही सदस्य के लिये चुनाव लड़ चुके हैं।

सूत्र बताते हैं कि पूरन प्रकाश को ऐसा आभास हो रहा था कि उनके स्थान पर रालोद मुखिया इस मर्तबा किसी दूसरे को टिकट देकर मिनी बागपत माने जाने वाले बल्देव विधानसभा क्षेत्र से मैदान में उतार सकते हैं। इसी गरज से उन्होंने चुनाव से पूर्व ही भगवा दल का दामन थाम लिया।

सोमवार को लखनऊ में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के समक्ष पूरन प्रकाश ने भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने की विधिवत घोषणा कर सभी को चौंका दिया। राष्ट्रीय लोकदल छोडक़र पूरन प्रकाश के भाजपा में आने से इस क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी की टिक पाने के लिये जोड़तोड़ कर दावेदारों के समक्ष एक और चुनौती खड़ी हो गयी है।

भारतीय जनता पार्टी से अब तक सबसे प्रवल दावेदार पूर्व विधायक अजय कुमार पोइया माने जा रहे थे। पूर्व विधायक श्याम सिंह अहेरिया के अलवा जिला पंचायत सदस्य नितिन दिवाकर भी टिकट की लाइन में थे। इन दावेदारों को पूरन प्रकाश के पार्टी में आने से झटका लगा है और अब वे अपनी दावेदारी को रणनीति पर मंथन कर नये सिरे से गोट बिछाने के लिये तैयारी करने को मजबूर है।

Updated : 2016-12-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top