Top
Home > Archived > अब ताजनगरी में पीजिए ‘कैशलेस चाय’

अब ताजनगरी में पीजिए ‘कैशलेस चाय’

अब ताजनगरी में पीजिए ‘कैशलेस चाय’

चाय की दुकान पर मोबाइल ऐप्प से भुगतान की शुरूआत

संजय प्लेस स्थित चाय की दुकान पर मोबाइल ऐप्स से दुकानदारी करता चाय विक्रेता
आगरा/मधुकर चतुर्वेदी। नोटबंदी की घोषणा के बाद केंद्र सरकार लोगों को कैशलेस के विभिन्न विकल्पों को अपनाने की बात कह रही है और बजट के दौरान लोगों को सस्ते स्मार्ट फोन देने की योजना पर विचार कर रही है। कैशलेस के विचार का भले ही कुछ लोग विरोध कर रहे हों लेकिन, ताजनगरी के छोटे दुकानदारों ने कैशलेस सोसाइटी की ओर अपने कदम बढ़ा दिए हैं।
बना चर्चा का विषय
सरकार की इस कैशलेस योजना में शहर के एक चायवाले ने अपना योगदान देना शुरू कर दिया है। नोटबंदी के बाद खुल्ले पैसे की किल्लत को देखते हुए इस चाय विक्रेता ने मोबाइल ऐप्प से सीधे अपने अकाउंट में पेमेंट लेना शुरू कर दिया है। नोटबंदी के एक महीने बाद भी बैंकों और एटीएम के बाहर लाइनों में कमी नहीं आई है। पैसे की किल्लत और 2000 के नोटों से निपटने के लिए आगरा के एक चाय विक्रेता ने अपने ग्राहकों को कैशलेस भुगतान की सुविधा दी है।
मोबाइल ऐप्प से बढ़ी आमदनी
चाय की दुकान पर मोबाइल ऐप्प से भुगतान चर्चा का विषय बना हुआ है। चाय दुकानदार अशोक कुमार संजय प्लेस में करीब 10 वर्षों से चाय बेचते हैं। नोटबंदी का चाय की दुकान पर असर पड़ने लगा तो अशोक ने कैशलेस सिस्टम स्वीकार कर लिया। अशोक सप्ताह भर से चाय का दाम सीधे अपने बैंक अकाउंट में ले रहे हैं। अशोक के मुताबिक मोबाइल ऐप्प के भुगतान से उनकी आमदनी अच्छी हो रही है। अशोक ने इसके लिए अपने मोबाइल पर एप डाउनलोड कर रखे हैं।

Updated : 2016-12-13T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top