Top
Home > Archived > दिग्गजों की मौजूदगी में नंदूभैया की ताजपोशी

दिग्गजों की मौजूदगी में नंदूभैया की ताजपोशी

14 अप्रैल से मनेगा गरीब कल्याण पर्व: मुख्यमंत्री

भोपाल। लगातार दूसरी बार भाजपा के प्रदेश के अध्यक्ष पद पर नंदकुमार सिंह चौहान की ताजपोशी भाजपा के दिग्गज नेताओं की उपस्थिति में आज राजधानी भोपाल में समारोहपूर्वक संपन्न हुई। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं केन्द्रीय चुनाव पर्यवेक्षक रामदास अग्रवाल ने उनके निर्वाचन की घोषणा के साथ ही राष्ट्रीय परिषदों के 29 सदस्यों की घोषणा की। जिनमें 19 सदस्य सामान्य, 6 सदस्य अनुसूचित जाति एवं 4 सदस्य अनुसूचित जनजाति वर्ग के शामिल है। नंदूभैया के ताजपोशी कार्यक्रम में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के अलावा केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्रसिंह तोमर, पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश प्रभारी डॉ. विनय सहस्रबुद्धे, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, पूर्व मुख्यमंत्री सुंदरलाल पटवा, कैलाश जोशी, फग्गनसिंह कुलस्ते, ज्योति धुर्वे, माखन सिंह, भगवतशरण माथुर, सुधा मलैया, माया सिंह, लालसिंह आर्य, राजेन्द्र शुक्ला, सत्यनारायण जटिया, महापोैर आलोक शर्मा, सांसद आलोक संजर, विजेश लूनावत, कृष्णमुरारी मोघे, राकेश सिंह, मेघराज जैन, विक्रम वर्मा, रामपाल सिंह, विश्वास सारंग, सुरेन्द्रनाथ सिंह, रामेश्वर शर्मा आदि मौजूद थे। बड़वानी से जनजाति वर्ग के कार्यकर्ताओं ने श्री शिवराज सिंह चौहान और श्री नंदकुमार सिंह चौहान को तीर-कमान भेंट करते हुए उनका स्वागत किया।
इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नवनिर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान को जिम्मा सौंपते हुए कहा कि संविधान निर्माता बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की 125वीं जयंती 14 अप्रैल से 23 जून तक गरीब कल्याण वर्ष के रूप में मनाया जायेगा और इस अभियान में मंडल स्तर से जिले तक संगठन के कार्यकर्ता गरीबों तक सरकार की योजनाओं को पहुंचाने व उन्हें लाभ दिलाने के लिए काम करेंगे।

साझा सूत्र मध्यप्रदेश के कार्यकर्ताओं की पहचान - स्वराज
श्रीमती सुषमा स्वराज ने श्री नंदकुमार सिंह चौहान को बधाई देते हुए कहा कि श्री शिवराज सिंह चौहान कहते है, 'नंदू भैया मध्यप्रदेश के खिवैयाÓ मैं जोडऩा चाहती हूं 'मध्यप्रदेश की नैया के खिवैया नंदू भैयाÓ। उन्होनें कहा कि श्री नंदकुमार सिंह चौहान में कार्यकर्ता भाव हिलोंरे लेता है, यही उनकी ऐसी विशेषता है, जो उन्हें कार्यकर्ताओं से संबंद्ध रखती है। श्रीमती सुषमा स्वराज ने कहा कि मैं राष्ट्रीय परिषद में संसदीय दल से जाती रही हूं, लेकिन इस बार पार्टी नेतृत्व ने मुझे संगठन की ओर से राष्ट्रीय परिषद में प्रतिनिधि बनाकर गौरवान्वित किया है।
वैभव का नहीं, परिश्रम और सेवा का पद है: श्री नंदकुमारसिंह
निर्वाचित होने के पश्चात श्री नंदकुमारसिंह चौहान ने कहा कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष का पद मात्र वैभव और प्रतिष्ठा का पद नहीं बल्कि यह पद सेवा समर्पण ओर जनता के प्रति निष्ठा की कसौटी है। इस पर खरा उतरना हमारा पुनीत कत्र्तव्य होगा। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता हमारी पंूजी है। उन्होंने कहा कि मुझे श्री शिवराजसिंह चौहान, डॉ. सत्यनारायण जटिया, श्री नरेन्द्रसिंह तोमर और तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष श्री प्रभात झा की टीम में कार्य करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है।

इसे में गौरव के क्षण मानता हंू और अभिभूत हंू।

Updated : 2016-01-06T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top