Home > Archived > फिर दिखे पाक झंडे, अमरनाथ यात्रा पर गिलानी की धमकी

फिर दिखे पाक झंडे, अमरनाथ यात्रा पर गिलानी की धमकी

फिर दिखे पाक झंडे, अमरनाथ यात्रा पर गिलानी की धमकी
X


श्रीनगर, हुर्रियत कॉन्फ्रेंस (जी) के चेयरमैन सैयद अली शाह गिलानी की शुक्रवार को कश्मीर के त्राल रैली में एक बार फिर से पाकिस्तानी झंडे लहराए गए। त्राल में ही पिछले महीने पुलिस के साथ कथित मुठभेड़ में एक युवक की मौत हो गई थी। गिलानी ने जुम्मे की नमाज के बाद रैली की। गिलानी रैली से पहले मुजफ्फर अहमद वानी के परिवार वालों से मिले थे। आर्मी की कार्रवाई में ही वानी के बेटे खालिद मुजफ्फर की मौत हो गई थी।
इस रैली में एक बार फिर से पाकिस्तानी झंडे लहराए गए। रैली को संबोधित करते हुए गिलानी ने कश्मीरी पंडितों की पुर्नवास योजना की आलोचना की। गिलानी ने अमरनाथ यात्रा को भी निशाने पर लिया। गिलानी ने कहा कि अमरनाथ यात्रा 30 दिनों से ज्यादा की नहीं हो।
सूत्रों का कहना है कि पुलिस शुक्रवार सुबह गिलानी को नजरबंद करने पुहंची थी लेकिन तब तक गिलानी ने त्राल के लिए घर छोड़ दिया था। हुर्रियत के करीबी नेताओं ने कहा कि गिलानी सुबह होते ही त्राल पहुंच गए थे। 86 साल के गिलानी ने त्राल में ही जुम्मे की नमाज अदा की। हुर्रियत के प्रवक्ता अयाज अकबर ने कहा कि गिलानी साहब इंडियन आर्मी की तरफ से की जा रही ज्यादती का खुलकर विरोध करेंगे।
गिलानी की रैली में पाकिस्तानी झंडे लहराए जाने पर बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कड़ी आपत्ति जतायी है। नकवी ने कहा, 'ये अलगाववादी अपने आकाओं को खुश करने के लिए जो हरकतें कर रहे हैं उन्हें निराशा हाथ लगेगी। उन्हें समझ लेने की जरूरत है कि यद देश कभी भी तालिबानी विचारधारा से नहीं हांका जा सकता। यह देश सिर्फ विकास के अजेंडे के साथ चलेगा। इस देश और जम्मू-कश्मीर की जनता शांति, सद्भावना और विकास चाहती है।'

Updated : 2015-05-01T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top