Latest News
Home > Archived > मृतक का शव रखकर किसानों ने लगाया जाम

मृतक का शव रखकर किसानों ने लगाया जाम

क्षेत्रीय विधायक की समझाइश पर सड़क से हटे किसान

भिण्ड | अतिवृष्टि और ओलावृष्टि से किसानों की फसल चौपट होने के बाद जिले में किसानों की मौत का मामला काफी गर्मा रहा है। गत बुधवार को ऊमरी में हुई एक किसान द्वारा की गई आत्महत्या के बाद गुरुवार को भारी संख्या में किसानों ने मृतक के शव को रखकर जाम लगा दिया। क्षेत्रीय विधायक नरेन्द्र सिंह कुशवाह के मौके पर पहुंचने के बाद उनके द्वारा दिए गए आश्वासन पर किसानों ने जाम खोला।जिले में अतिवृष्टि और ओलावृष्टि की बजह से किसानों की फसल पूर्णत: नष्ट हो चुकी है। वहीं प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा दिए गए बेतुके बयान से घबराकर अलग-अलग गांवों में चार किसानों की मृत्यु हो चुकी है। पूर्व में चरी, कनावर ऊमरी व रिनियां गांव के दो किसानों की फसलें बर्बाद होने की बजह से मौत हुई थी। वहीं बुधवार को ऊमरी व अशोखर गांव के अन्य दो किसानों की भी मृत्यु हो चुकी है। ऊमरी निवासी अभिलाख सिंह यादव फसल बर्बाद होने से इतना दुखी था कि मरने से पहले उसने अपने भाई को व्यथा सुनाई थी कि भैया फसलें पूरी तरह बर्बाद हो चुकी हैं और शासन प्रशासन का भी कोई भरोसा नहीं है कि वो उचित सर्वे कराकर मुआवजा देगा। अब तो ऐसा लगता है कि आत्महत्या कर लूं।मृतक किसान के भाई वीरेन्द्र यादव ने बुधवार को सुबह 11 बजे ही उसको समझाया था कि कोई गलत कदम मत उठाना, तुम्हारे व परिवार के खाने का इंतजाम मैं करूंगा, लेकिन होनी को कुछ और ही मंजूर था। फसल बर्बाद होने से हताश अभिलाख यादव ने अपने खेत पर खड़े बबूल के पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली तथा मरने से पहले अभिलाख ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा था, जिसमें मौत का कारण फसल बर्बाद होना व कर्ज से दबा होना बताया है।आक्रोशित किसानों ने की नारेबाजीमृतक किसान अभिलाख सिंह यादव के शव का अंत:परीक्षण कर गुरुवार को सुबह परिजनों को सुपुर्द किया गया। इसके बाद आक्रोशित परिजनों ने ऊमरी में भिण्ड तिराहे पर शव रखकर जाम लगा दिया तथा शासन व प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए। इसमें अन्य किसानों ने भी उनका साथ दिया। बेटी का विवाह करने बसपा नेता ने दिए एक लाख रुपएबसपा नेता एवं पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष संजीव सिंह कुशवाह संजू भी आज ऊमरी पहुंचे और मृत किसान परिवार की बेटी के विवाह हेतु एक लाख रुपए की धनराशि देने की घोषणा की। उन्होंने ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों की समस्याओं को लेकर भिण्ड एसडीएम से भी भेंट की और किसानों को हर संभव सहायता दिलाने की मांग रखी। इस पर एसडीएम द्वारा आश्वस्त किया गया कि किसानों की ऋण वसूली स्थगित करने के साथ-साथ तत्काल उनकी फसल की क्षति का मुआवजा दिलाने के प्रयास जारी है।सांत्वना देने पहुंचे लहार विधायकलहार विधायक डॉ. गोविंद सिंह को जैसे ही घटना की जानकारी लगी तो वह तत्काल मृत किसान अभिलाख यादव के घर उसके परिजनों को सांत्वना देने पहुंचे। डॉ. सिंह ने कहा कि भिण्ड जिलाधीश पता नहीं किस मिट्टी के बने हैं। जिले भर में लगातार किसानों की मौतें हो रही है और वह अभी भी भाजपा नेताओं के इशारों पर कार्य कर रहे हंै।लहार विधायक ने भाजपा सरकार व जिलाधीश मधुकर आग्नेय को खरी-खोटी कहने के बाद मृतक के बेटे को गले लगाया और उससे कहा कि तुम्हें चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। लहार विधायक ने मृतक के परिवार वालों को भरण-पोषण के लिए 35 क्विंटल गेहंू और दस हजार रुपए नगद राशि भेंट की।

Updated : 2015-04-03T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top