Latest News
Home > Archived > भारत सहित दुनिया के तमाम देशों ने की पेरिस आतंकी हमले की निंदा

भारत सहित दुनिया के तमाम देशों ने की पेरिस आतंकी हमले की निंदा

भारत सहित दुनिया के तमाम देशों ने की पेरिस आतंकी हमले की निंदा
X

नई दिल्ली। भारत सहित दुनिया के तमाम देशों ने पेरिस आतंकी हमले की कडी निंदा की है। विश्व के तमाम नेताओं ने फ्रांस के साथ एकजुटता दिखाई है। भारत के राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने फ्रांस की राजधानी पेरिस में हुए हमले की निंदा करते हुए इसे कायरतापूर्ण एवं घृणित कार्रवाई बताया है। फ्रांस की राजधानी पेरिस में हुए आतंकी हमलों की दुनिया भर में निंदा हो रही है।
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने फ्रांस की राजधानी पेरिस में हुए घातक आतंकवादी हमलों की निंदा करते हुए दु:ख प्रकट किया। राष्ट्रपति ने ट्विट किया कि ‘मैं पेरिस में हुए आतंकवादी हमलों की कड़ी निंदा करता हूं। भारत फ्रांस के साथ दृढ़ता से खड़ा है। उन्होंने कहा कि मेरी संवेदनाएं फ्रांस के लोगों के साथ हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विट कर लिखा है कि पेरिस से आ रही खबर दर्दनाक और दु:खद है। मारे गए लोगों के साथ हमारी संवेदनाएं हैं। इस घड़ी में हम पेरिसवासियों के साथ हैं।
ओबामा ने व्हाइट हाउस में कहा कि एक बार फिर हमने निर्दोष नागरिकों को आतंकित करने के लिए एक घृणित प्रयास करते देखा। फ्रांस की सरकार और लोगों की सहायता प्रदान करने के लिए हम तैयार खड़े हैं।
उन्होंने कहा कि इन आतंकवादियों को न्याय के कटघरे में लाने के लिए इनके नेटवर्क को नेस्तानाबूद करना होगा। ये मानवता पर हमला है और इस मुश्किल की घड़ी में अमेरिका पूरी तरह से फ्रांस के साथ खड़ा है।
साथ ही, संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने पेरिस हमले की निंदा करते हुए इसे घृणित आतंकवादी हमला बताया है। मून ने एक बयान में कहा कि बैटाकलां कन्सर्ट हॉल में कथित तौर पर बंधक बनाए गए 60 लोगों की तुरंत रिहाई की जाए। मून ने कहा कि इस तरह हमले स्वीकार्य नहीं किए जाएंगे और पूरे वि को मिलकर इनसे मुकाबला करना होगा।
जानकारी हो कि फ्रांस की राजधानी पेरिस में सिलसिलेवार तरीके से हुए आतंकी हमले हमले को अंजामें 160 से अधिक लोगों के मारे जाने की खबर है। पेरिस में एक साथ छह जगहों पर आतंकी म दिया गया। इन हमलों की जिम्मेदारी आतंकी संगठन आईएसआईएस ने ली है।

Updated : 2015-11-14T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top