Latest News
Home > Archived > भाई ही निकला बहन का हत्यारा

भाई ही निकला बहन का हत्यारा

पुलिस ने किया दोहरे हत्याकांड का पर्दाफाश


भिण्ड । शहर के बालाजी नगर में बीते दिनों तड़के सुबह हुई एक लड़की की हत्या का मामला पुलिस ने सुलझा लिया है। उक्त घटना का आरोपी मृतका का सगा भाई ही निकला है। इससे पहले उसने अपनी बहन के प्रेमी की हत्या कहीं बाहर ले जाकर की थी। हत्या का राज ना खुल जाए इस डर से बहन की भी गोली मारकर हत्या कर दी और हत्या का आरोप उसके प्रेमी व अन्य पर मढ़कर पुलिस को गुमराह करता रहा। पुलिस ने हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मृतका के संबंध अमोलपुरा निवासी राहुल ओझा से थे। इसको लेकर पहले भी मृतका के भाई व राहुल के बीच मारपीट हो चुकी है। इसी के चलते उक्त आरोपियो ने सबसे पहले 21-22 जून की दरिम्यानी रात राहुल ओझा को मेहगांव बुलाया। शराब में नशीली दवाई खिला दी। जब राहुल बेहोश हो गया तो वे उसे उ.प्र. के मुरादगंज में ले गए जहां हत्या कर शव को नहर में फेंक दिया। आरोपियों ने उक्त युवक का मोबाइल, एटीएम कार्ड व कान की बाली अपने पास रख ली। इसके बाद 23 जून की सुबह योजना बनाकर पूजा शर्मा की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। हत्या के लिए मृतका के भाई प्रमोद शर्मा ने दो अन्य आरोपी बंटी शर्मा पुत्र वीरेन्द्र उम्र 24 वर्ष निवासी बालाजी नगर पटे उर्फ शिवानंद शर्मा पुत्र रामनिवास शर्मा उम्र 28 साल निवासी बालाजी नगर की मदद ली।
ऐसे हुआ खुलासा
मृतका के भाई ने घटना के बाद पुलिस को रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसकी बहन की हत्या अमोलपुरा थाना नगरा निवासी राहुल ओझा व विपिन ओझा ने की है। जब पुलिस ने तस्दीक की तो सामने आया कि विपिन घटना के समय अपने गांव में क्रिकेट खेल रहा था। वहीं राहुल की अंतिम लोकेशन पुलिस को 22 जून की रात्रि आठ बजे के करीब मेहगांव के पास मिली। उसके बाद से उसकी लोकेशन ट्रेस नहीं हो पा रही थी।
डेढ़ लाख में हुआ था सौदा
प्रमोद शर्मा ने बताया कि वंटी शर्मा व पटे उर्फ शिवानंद शर्मा को उसने हत्या करने के एवज में डेढ़ लाख रुपए देने की बात कही थी। जिसमें से 80 हजार उक्त लोगों को दिए जा चुके है। पटे ने मृतिका को गोली मारी थी।

Updated : 2014-08-18T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top