Home > Archived > रसीला आम सेहत के लिए भरपूर फायदेमंद

रसीला आम सेहत के लिए भरपूर फायदेमंद

नई दिल्ली | आम को फलों का राजा कहा जाता है। फिलहाल बाजार में पके हुए आमों की बहार है जिनमें मालदा,दशहरी,सफेदा आदि कई पके हुए आम मिल रहे हैं। आम रसीला होता है जो ना सिर्फ खाने में बल्कि सेहत के लिए लिहाज से भी फायदेमंद होता है आम के पकने के साथ उसका रंग भी सफेद से पीला हो जाता है। यही पीले रंग का कैरोटीन हमारे शरीर में जाकर विटामिन 'ए' में परिवर्तित हो जाता है। इसमें विटामिन 'सी' भी काफी होता है।
आम की अनेक प्रजातियां होती हैं। अलग-अलग रंग, आकार एवं तरह-तरह के स्वाद के होते हैं। देशी आम जिनको चूसकर खाते हैं, उनमें रेशा होता है और रस पतला होता है, जबकि कलमी आम में रेशा कम होता है, जिससे उन्हें काटकर खाते हैं। चिकित्सा के दृष्टिकोण से देशी आम अधिक गुणकारी माने जाते हैं। पका हुआ आम्रफल रक्तवर्द्धक, मीठा, चिकनाईयुक्त, प्रमेहनाशक, वातनाशक, उदर रोगनाशक, तृप्तिकारक, उदर रोगनाशक, यकृत (लीवर) के लिए बलकारक होता है।
आम में भरपूर मात्रा में विटामिन ए होता है जो आंखों की रोशनी बढ़ाता है और रतौंधी जैसे रोगों से दूर रखता है। इसमें मौजूद साइट्रिक एसिड, टरटैरिक एसिड और मैलिक शरीर में एल्कलाइ यानी क्षारीय तत्वों का संतुलन बनाता है। आम विटामिन ई का अच्छा स्रोत है और यह कामेच्छा को बढ़ाता है। कई शोधों ने इसे माना है। आम में फाइबर और विटामिन सी अच्छी मात्रा में होते हैं जो लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन (एमलीएल) यानी बैड कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम करने में मदद करते हैं।


Updated : 28 Jun 2014 12:00 AM GMT
Next Story
Top