Top
Home > Archived > दिल्ली में 20 टैक्सी कंपनियों पर लगा बैन

दिल्ली में 20 टैक्सी कंपनियों पर लगा बैन

दिल्ली में 20 टैक्सी कंपनियों पर लगा बैन
X

नई दिल्ली। अमेरिका की उबेर टैक्सी कंपनी के ड्राइवर द्वारा एक महिला सवारी का रेप करने के बाद दिल्ली सरकार ने कंपनी की सेवा पर दिल्ली में प्रतिबंधित करने के साथ ही मोबाइल एप पर आधारित 20 टैक्सी सर्विस कंपनियों पर भी बैन लगा दिया है। दिल्ली सरकार के इस आदेश से दिल्ली के कम्यूटर्स को काफी दिक्कतों को सामना करना पड सकता है।
उबेर को बैन करने के बाद दिल्ली के ट्रांसपोर्ट विभाग ने सूचना जारी कर कहा कि केवल ईजी कैब, मैगा कैब, मेरू कैब, चांसन कैब, यो कैब और एयर कैब के पास ही रेडियो टैक्सी चलाने का लाइसेंस है। दिल्ली प्रशासन के इस आदेश के बाद करीब 20 टैक्सी कंपनियों को अपनी सर्विस बंद करनी पडेगी। इससे हजारों ड्राइवर बेरोजगार हो जाएंगे।
अकेले उबेर कंपनी के पास करीब 3,000 ड्राइवर हैं। इसके अलावा रेप मामले में दिल्ली पुलिस ने उबेर कंपनी के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की है। पुलिस ने उबरे के खिलाफ आईपीसी की धारा-420 के तहत मामला दर्ज किया है।
उबेर कंपनी के ड्राइवर शिव कुमार ने शुक्रवार रात एक एमएनसी में काम करने वाली युवती के साथ रेप की घटना को अंजाम दिया था। बाद में पुलिस ने उसे मथुरा से गिरफ्तार कर लिया था। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उसे सोमवार को दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में पेश किया जहां से कोर्ट ने उसे तीन दिनों के पुलिस रिमांड पर भेज दिया।

Updated : 2014-12-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top