Top
Home > Archived > धाकड़ व रावत समुदाय के बीच पानी विवाद पर खूनी संघर्ष

धाकड़ व रावत समुदाय के बीच पानी विवाद पर खूनी संघर्ष

सात घायल, दोनों पक्षों पर हत्या का प्रयास का मामला दर्ज

शिवपुरी। कोतवाली क्षेत्रांतर्गत आने वाले ग्राम रातौर में सोमवार को सुबह मामूली विवाद से हुए संघर्ष ने खूनी रूप धारण कर लिया। धाकड़ व रावतों के बीच हुए झगड़े में खून की होली खेली गई और इस घटना में दोनों पक्षों ने लाठी, लुहांगी व फरसों का इस्तेमाल किया। उक्त घटना में दोनों पक्षों के सात लोग गंभीर रूप से घायल हो गए जिन्हें उपचार के लिए जिला चिकित्सालय लाया गया।
इस मामले में पुलिस ने धाकड़ समुदाय की ओर से आठ लोगों पर भादवि की धारा 307, 294, 341, 147, 148, 149 का प्रकरण कायम किया है। वहीं रावत समुदाय की ओर से छह लोगों के विरुद्ध भादवि की धारा 307, 323, 294, 147, 148, 149 की धाराएं लगाई हैं।
जानकारी के अनुसार कल शाम रामदयाल धाकड़ व महेन्द्र पुत्र जगदीश रावत निवासीगण ग्राम रातौर का विवाद पानी भरने को लेकर हो गया था। उस समय दोनों की अन्य ग्रामीणों ने सुलह करवाकर विवाद को सुलझा दिया, लेकिन सोमवार की सुबह 7:30 बजे दोनों पक्ष एकत्रित होकर आमने-सामने आ गए और दोनों के बीच जमकर लाठी, लुहांगी और फरसे चलना शुरू हो गए। घटना के बाद पूरे गांव में सन्नाटा पसर गया। इस विवाद में धाकड़ पक्ष की ओर से फरियादी रामदयाल धाकड़ सहित, धनीराम, धीरज सिंह, मंगल सिंह, बद्री धाकड़ घायल हो गए।
वहीं रावत पक्ष की ओर से महेश रावत व कल्याण रावत घायल हुए। पुलिस ने दोनों पक्षों की रिपोर्ट दर्ज कर रामदयाल धाकड़ की फरियाद पर वीरू रावत, अतर सिंह रावत, महेश रावत, रणवीर रावत, सुमरन रावत, परमार रावत, कल्याण रावत, हरकिशोर रावत को आरोपी बनाया है। वहीं महेश पुत्र जगदीश रावत की फरियाद पर पप्पू उर्फ रामदयाल धाकड़, धनीराम धाकड़, दीवान सिंह धाकड़, मनोज धाकड़, धीरज सिंह धाकड़ को आरोपी बनाया है। घटना के बाद सभी घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया जहां उनका इलाज चल रहा है। 

Updated : 2014-10-07T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top