Top
Home > Archived > दीपावली पर फलफूल रहा है नकली मावे का कारोबार

दीपावली पर फलफूल रहा है नकली मावे का कारोबार

अन्य शहरों में भी हो रही है सप्लाई, दूषित मावे से बनाई जा रही हैं मिठाइयां

शिवपुरीे। दीपावली पर नकली व दूषित मावे का कारोबार शहर में स्वास्थ्य और खाद्य विभाग की निष्क्रियता या सांठगांठ से फलफूल रहा है। इस समय शहर में मिठाई की दुकानदार हजारों क्विंटल मावे का इस्तेमाल करते हैं। नकली व असली मावे के दामों में जमीन-आसमान के अंतर के कारण सिंथेटिक मावे का इस्तेमाल बड़े पैमाने पर हो रहा है। वहीं नकली मावा अधिक मात्रा में बनाकर देश के अन्य नगरों में भी खपाया जा रहा है। जिनमें मुख्य रूप से कलकत्ता, अहमदाबाद, सूरत, जयपुर, कोटा, गुना, ग्वालियर, श्योपुर सहित अन्य शहर शामिल हैं।
यह दूषित मावा शहर के पुरानी शिवपुरी, माधव चौक, सदर बाजार, न्यू ब्लॉक चौराहा, लुधावली, फतेहपुर, मनियर, नीलगर चौराहा आदि क्षेत्रों में तैयार किया जा रहा है। इसी के साथ कुछ मिष्ठान व्यापार से जुड़े लोग भी इस व्यापार में संलिप्त हैं।
पिछले वर्ष जहां प्रशासन ने कई स्थानों पर छापामार कार्रवाई कर क्विंटलों दूषित व नकली मावा पकड़ा था और उसका विनिष्टीकरण भी किया था, परन्तु इस वर्ष प्रशासन सक्रिय नहीं दिख रहा जिस कारण दूषित मावा विक्रेताओं के हौंसले बुलंद हैं और व्यापारी दीपावली पर्व पर बड़ी संख्या में दूषित और नकली मावे को खपाने की जुगत में दिख रहे हैं।
अगर प्रशासन इन दो दिनों में कार्रवाई को अंजाम नहीं दे पाया तो इन व्यापारियों द्वारा खपाए गए मावे के कारण बीमारियां फैलने की आशंका है।

Updated : 2014-10-21T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top