Latest News
Home > Archived > बिहार: रेल दुर्घटना में 35 लोगों की मौत

बिहार: रेल दुर्घटना में 35 लोगों की मौत

बिहार: रेल दुर्घटना में  35 लोगों की मौत
X

पटना | बिहार के सहरसा-मानसी रेलखंड के धमारा घाट रेलवे स्टेशन पर सुबह राजरानी एक्सप्रेस की चपेट में आकर कम से कम 35 कांवड़ियों की मौत हो गई है। घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने रेलगाड़ी में आग लगा दी, जिससे चार डिब्बे पूरी तरह खाक हो गए। इस बीच, दुर्घटना के बाद लोगों की पिटाई से बुरी तरह घायल हुए रेलगाड़ी चालक की मौत हो गई | हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं हुई है। एक पुलिस अधिकारी ने 35 कांवड़ियों की मौत की पुष्टि की है। यह दुर्घटना पूर्व मध्य रेलवे (ईसीआर) के सहरसा-मानसी रेलखंड में स्थित धमारा रेलवे स्टेशन पर उस वक्त घटी, जब रेल लाइन पार करते समय कांवड़ियों को राज्यरानी एक्सप्रेस रौंद कर आगे बढ़ गई।
यह रेलगाड़ी सहरसा से पटना जा रही थी। घटना सुबह आठ से 8.30 बजे के बीच हुई है। इसका ठहराव धमारा में नहीं होता। अधिकारी ने कहा, "कांवड़िए लोकल ट्रेन से उतरने के बाद रेल पटरी पार करने की कोशिश कर रहे थे, इसी दौरान दुर्घटना घट गई।" घटना के फौरन बाद गुस्साए कांवड़ियों और स्थानीय लोगों ने चार डिब्बे में आग लगा दी, जिसमें से एक वातानुकुलित डिब्बा भी शामिल है। इन्होंने रेलवे के अधिकारियों पर भी हमला किया। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, "कुछ गुस्साए लोगों ने रेलगाड़ी के चालक पर हमला किया, जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया। उन्होंने उसे निर्दयता से मारा। इसके अलावा रेलवे के कुछ अधिकारियों को भी बंधक बना लिया गया।" ईसीआर के मुख्य जन संपर्क अधिकारी अमिताभ प्रभाकर ने पटना के नजदीक हाजीपुर स्थित ईसीआर मुख्यालय से बताया कि सैंकड़ों आक्रोशित लोगों के प्रदर्शन के कारण रेलवे स्टेशन पर स्थिति लगभग नियंत्रण से बाहर हो गई है।
उन्होंने कहा, "रेलवे अधिकारी दुर्घटना स्थल पर जाने में सक्षम नहीं है।" उनके अनुसार, घटना के संदर्भ में काफी असमंजस की स्थिति बनी हुई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घटना पर दुख प्रकट करते हुए शीर्ष रेलवे अधिकारियों से राहत कार्य शुरू करने और घायलों का उचित उपचार किए जाने की मांग की है।


Updated : 2013-08-19T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top