Home > Archived > फांसी से पहले अदा की थी नमाज

फांसी से पहले अदा की थी नमाज

फांसी से पहले अदा की थी नमाज
X

दिल्ली। वर्ष 2001 में संसद हमले के दोषी अफजल गुरु ने दस वर्ष तिहाड़ की हाई सिक्योरिटी सेल में बिताए थे। संसद हमले का दोषी अफजल गुरु डेथ वारंट सुनने के बाद से ही बेहद शांत था। उसने फांसी से पहले नमाज अदा की और जेल प्रशासन से कुरान भी मांगी। इस बात तिहाड़ जेल के आला अधिकारियों ने भी की है। अधिकारियों के मुताबिक फांसी से देने से पहले ही इस बाबत जानकारी उसके परिवारवालों को दे दी गई थी।
फांसी लगाए जाने से पहले उसको सेल से अलग किया गया और उसकी अंतिम इच्छा भी पूछी गई, जिसके बाद जेल के अधिकारियों से उसने कुरान दिए जाने की मांग की थी, जो पूरी कर दी गई। जेल अधिकारियों के मुताबिक अफजल पूरी रात सो नहीं सका और न ही उसने रात को खाना ही खाया। संसद हमले के दोषी अफजल को वर्ष 2001 में ही पुलिस ने उसको गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया था, जहां दिल्ली की पटियाला हाउस अदालत में उसको फांसी की सजा सुनाई गई थी। इसके बाद 2005 में सुप्रीम कोर्ट ने भी उसकी फांसी की सजा को बरकरार रखा। इसके बाद राष्ट्रपति ने उसकी दया याचिका को खारिज कर उसकी फांसी पर अंतिम मुहर लगा दी थी।



Updated : 2013-02-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top